Category - Motivational sms


हाल पूछ लेने से
कौन सा हाल
ठीक हो जाता है,

बस एक तसल्ली सी
हो जाती है कि इस
मतलबी दुनिया में
कोई अपना भी है !!

जय श्री राधे कृष्णा
      सुप्रभात
   🙏🏻🌷🙏🏻



एक टीचर ने मजाक में
बच्चो से कहा
जो बच्चा कल जन्नत से
मिट्टी लायेगा, मैं
उसे इनाम दूँगी..!
अगले दिन टीचर
क्लास में सब बच्चों से
पूछती है.
क्या कोई बच्चा मिट्टी लाया?
सारे बच्चे खामोश रहते हैं…
एक बच्चा उठकर
टीचर के पास जाता है
और कहता है,
लीजिये मैडम,
मैं लाया हूँ जन्नत से
मिट्टी..!
टीचर उस बच्चे को
डांटते हुए कहती है;
मुझे बेवकूफ़ समझता है..
कहाँ से लाया है ये
मिट्टी..?










रोते रोते बच्चा बोला -“मेरी माँ के
पैर के नीचे से……….fir Vo teacher ro padi aur us bache ko gale lga lia

न अपनों से खुलता है,

न ही गैरों से खुलता है.

ये जन्नत का दरवाज़ा है,

मेरी माँ के पैरो से खुलता है.!!
💕 love u

#मा



देने को दान, 🙏🏼
लेने को ज्ञान, 🙏🏼

और त्यागने को अभिमान श्रेष्ठ है.’ 🙏🏼



कोई ज़िंदगी के
फ़ैसलो से लड़ नही सकता…

किसी को
खोना पड़ता है….

और
किसी का होना पड़ता है…😇😎
.
.



✒🔴 शरीर में रौंगटे खड़े कर देने वाली कविता,,,

    🔴🎷 🌺  माँ की इच्छा  🌺 🎷🔵

   महीने बीत जाते हैं ,
   साल गुजर जाता है ,
   वृद्धाश्रम की सीढ़ियों पर ,
   मैं तेरी राह देखती हूँ।

                   आँचल भीग जाता है ,
                   मन खाली खाली रहता है ,
                   तू कभी नहीं आता ,
                   तेरा मनि आर्डर आता है।

                               इस बार पैसे न भेज ,
                               तू खुद आ जा ,
                               बेटा मुझे अपने साथ ,
                               अपने 🏡 घर लेकर जा।

    तेरे पापा थे जब तक ,
    समय ठीक रहा कटते ,
    खुली आँखों से चले गए ,
    तुझे याद करते करते।

               अंत तक तुझको हर दिन ,
               बढ़िया बेटा कहते थे ,
               तेरे साहबपन का ,
               गुमान बहुत वो करते थे।

                            मेरे ह्रदय में अपनी फोटो ,
                            आकर तू देख जा ,
                            बेटा मुझे अपने साथ ,
                            अपने 🏡 घर लेकर जा।

   अकाल के समय ,
   जन्म तेरा हुआ था ,
   तेरे दूध के लिए ,
   हमने चाय पीना छोड़ा था।

               वर्षों तक एक कपडे को ,
               धो धो कर पहना हमने ,
               पापा ने चिथड़े पहने ,
               पर तुझे स्कूल भेजा हमने।

                         चाहे तो ये सारी बातें ,
                         आसानी से तू भूल जा ,
                         बेटा मुझे अपने साथ ,
                         अपने 🏡 घर लेकर जा।

🏡 घर के बर्तन मैं माँजूंगी ,
      झाडू पोछा मैं करूंगी ,
      खाना दोनों वक्त का ,
      सबके लिए बना दूँगी।

            नाती नातिन की देखभाल ,
            अच्छी तरह करूंगी मैं ,
            घबरा मत, उनकी दादी हूँ ,
            ऐंसा नहीं कहूँगी मैं।

                            तेरे 🏡 घर की नौकरानी ,
                            ही समझ मुझे ले जा ,
                            बेटा मुझे अपने साथ ,
                            अपने 🏡 घर लेकर जा।

   आँखें मेरी थक गईं ,
   प्राण अधर में अटका है ,
   तेरे बिना जीवन जीना ,
   अब मुश्किल लगता है।

                 कैसे मैं तुझे भुला दूँ ,
                 तुझसे तो मैं माँ हुई ,
                 बता ऐ मेरे कुलभूषण ,
                 अनाथ मैं कैसे हुई ?

                           अब आ जा तू मेरी कब्र पर ,
                           एक बार तो माँ कह जा ,
                           हो सके तो जाते जाते ,
                           वृद्धाश्रम गिराता जा।

🌹🌹🌹💠🌹💠🌹🌹🌹



टूटे हुए सपनो और छुटे हुए अपनों ने मार दिया
वरना ख़ुशी खुद हमसे मुस्कुराना सिखने आया
करती थी !!



जिन्दगी की दौड़ में,
तजुर्बा कच्चा ही रह गया…
हम सीख न पाये ‘फरेब’
और दिल बच्चा ही रह गया !
बचपन में जहां चाहा हंस लेते थे,
जहां चाहा रो लेते थे…
पर अब मुस्कान को तमीज़ चाहिए
और आंसुओ को तन्हाई !
हम भी मुस्कराते थे कभी बेपरवाह अन्दाज़ से…
देखा है आज खुद को कुछ पुरानी तस्वीरों में !
चलो मुस्कुराने की वजह ढूंढते हैं…
जिन्दगी तुम हमें ढूंढो…
हम तुम्हे ढूंढते हैं …!!!



“सिलाई मशीन में धागा…
नहीं डालने पर वो चलती तो है…
पर कुछ सिलती नहीं….

उसी तरह,
यदि रिश्तों में प्यार नहीं डालोगे.
तो ज़िन्दगी चलेगी ज़रूर पर..
रिश्तों को जोड़ नहीं पाएगी…!!”



इंसान खुद की गलती पर अच्छा
‘वकील’ बनता है,
और
दुसरो की गलती पर सीधे ‘जज’ बन जाता है…।।



.              .*””*.          कृपया
             (   @  #>     मेरे लिए
       _.*”.-‘..,   )    अपने घर की छत
   .-” . ‘ _- ._,.-”        पर दाना और
   / ,,,/”   |  |        एक बर्तन में पानी
  / ,,,/     ^  ^           जरूर रखना
/ ,,,/N                    गर्मी बहुत है
                           आपकी चिड़िया..🐥
प्लीज शेयर करे धन्यवाद



रिश्ते हमेशा “तितली” जैसे होते है

जोर से पकड़ो तो “मर” जाते है
छोड़ दो तो “उड़” जाते हैं

और प्यार से पकड़ो तो उँगलियों  पर
अपना “रंग” छोड़ जाते है..
🌹सुप्रभात🌹

Jai Mata Di



किसी ने मुझसे पुछा की :
“तुम इतने खुश
कैसे रह लेते हो…??”

तो मेने कहा :-
“मैनें ज़िन्दगी की गाड़ी से
वो साइड ग्लास ही हटा दिया,

जिसमे
पीछे छूटे रास्ते
नज़र आते हैं…😎😇
.
.🔫🔫🔫



किसी ने मुझसे पुछा की :
“तुम इतने खुश
कैसे रह लेते हो…??”

तो मेने कहा :-
“मैनें ज़िन्दगी की गाड़ी से
वो साइड ग्लास ही हटा दिया,

जिसमे
पीछे छूटे रास्ते
नज़र आते हैं…😎😇
.
.🔫🔫🔫



किसी ने सच ही कहा था ।
की जब किताबे सड़क किनारे रख कर बिकेगी और

जूते काँच के शोरूम में तब समझ जाना के लोगों को
ज्ञान की नहीं जूते की जरुरत है।



मेने जिंदगी से पूछा की
तू इत्ती कठिन क्यू है…?

जिंदगी ने
हँसकर कहा बेटा,

“दुनिया में आसान चीजों की
कोई क़द्र नही है”…😇😎
.
.
Good evening…🔫🔫🔫



उन्हें माफ कर दो जो आप से नफरत करते हैं





आप की कोई और बात उन्हें इससे ज्यादा परेशान नहीं कर सकती।



सांप घर पर दिखाई दे तो लोग डंडों से मारते हैं,
और शिव लिंग पर दिखाई दे तो दूध पिलाते हैं…

लोग सम्मान आप का नहीं,
आप के स्थान और स्थिति का करते हैं।..
👍👍



सांप घर पर दिखाई दे तो लोग डंडों से मारते हैं,
और शिव लिंग पर दिखाई दे तो दूध पिलाते हैं…

लोग सम्मान आप का नहीं,
आप के स्थान और स्थिति का करते हैं।..
👍👍



मेहनत लगती है
          सपनो को सच बनाने मे
हौसला लगता है
          बुलन्दियों को पाने मे
बरसो लगते है जिन्दगी बनाने मे
      ओर जिन्दगी फिर भी कम पडती है     
रिश्ते निभाने .
           🌹गुड मॉर्निंग 🌹



👍हर पतंग जानती हे,
अंत में  कचरे मे जाना हे
  लेकिन उसके पहले हमे,
   आसमान छूकर दिखाना हे….!!!!!👍
            💐🙏शुभ प्रभात



💐 दुसरो को सुनाने के लिए
अपनी “आवाज” ऊँची मत करो

बल्कि …

अपना “व्यक्तित्व” इतना
ऊँचा बनाओ की आपको सुनने के लिए “लोग” इंतज़ार करें
✍Good Morning🙂;)
Jay mataji



ठोकरें ख़ाता हूँ पर “शान” से चलता हूँ।

मैं खुले आसमान के नीचे
सीना तान के चलता हूँ
मुश्किलें तो “साज़” हैं ज़िंदगी का।
“आने दो-आने दो”

उठूंगा , गिरूंगा फिर उठूंगा
और
आखिर में “जीतूंगा मैं ही”

ये ठान के चलता हूँ……. !!



ईश्वर “टूटी” हुई चीज़ों का इस्तेमाल कितनी ख़ूबसूरती से करता है ..,, जैसे ….
बादल टूटने पर पानी की फुहार आती है ……
मिट्टी टूटने पर खेत का रुप लेती है….
फल के टूटने पर बीज अंकुरित हो जाता है …..
और बीज टूटने पर एक नये पौधे की संरचना होती है ….
इसीलिये जब आप ख़ुद को टूटा हुआ महसूस करे तो समझ लिजिये ईश्वर आपका इस्तेमाल किसी बड़ी उपयोगिता के लिये करना चाहता है ।
इसीलिए सदैव प्रसन्न रहें और प्रसन्न रखे।
🌷🌷सुप्रभात🌷🌷



👉🏼”प्रभु “कहते” “हैं”
“होती” “आरती”, “बजते “शंख”
“पूजा” “में” “सब” “खोए” “हैं”
“मंदिर” “के” “बाहर” “तो” “देखो”,
“भूखे” “बच्चे ” “सोए” “हैं ”
“एक” “निवाला” “इनको” “देना”,
“प्रसाद” “मुझे” “चढ” “जायेगा”
“मेरे” “दर” “पर” “माँगने” “वाले”
“तुझे” “बिन” “माँगे” “सब” “मिल” “जायेगा ।।.. 👈🏼



“कभी नोटो के लिए मर गए,
कभी वोटो के लिए मर गए,
कभी जात-पात के नाम पर मर गए, कभी आपस मे 2 गज जमीनो के लिए मर गए,..

होते अगर आज वीर भगत सिहँ तो कहते… यार सुखदेव…
हम भी किनके लिए मर गए” !!..



“कभी नोटो के लिए मर गए,
कभी वोटो के लिए मर गए,
कभी जात-पात के नाम पर मर गए, कभी आपस मे 2 गज जमीनो के लिए मर गए,..

होते अगर आज वीर भगत सिहँ तो कहते… यार सुखदेव…
हम भी किनके लिए मर गए” !!..



🐬 “जो भाग्य में है , वह
               भाग कर आएगा,
जो नहीं है , वह
          आकर भी भाग जाएगा…!”

जिंदगी को इतना सिरियस लेने की जरूरत नही यारों, यहाँ से जिन्दा बचकर कोई नही जायेगा!

एक सत्य यह है की :-
“अगर जिन्दगी इतनी अच्छी होती तो हम इस दुनिया में रोते- रोते हुए न आते…..!!

मगर एक मीठा सत्य यह भी है की :-
“अगर यह जिन्दगी बुरी होती तो जाते-जाते लोगों को रुलाकर न जाते….👏🏽👏🏽👏🏽👏🏽



👌”तेरा मेरा”करते 👆एक दिन चले जाना
           है…………
जो भी कमाया यही रह जाना है।
      👉कर ले कुछ अच्छे कर्म,
      साथ यही तेरे आना है।
रोने से तो “आंसू”भी पराये हो जाते हैं
लेकिन”:Dमुस्कुराने “से पराये भी अपने          
            हो जाते हैं ………
        मुझे वो 👌रिश्ते पसंद है,
    जिनमें “मैं” नहीं “हम” हो।



👉 इतनी “ऊँचाई’ न देना प्रभु कि,
धरती “पराई” लगने लगे.!
👉 इनती “खुशियाँ” भी न देना कि,
“दुःख” पर किसी के हंसी आने लगे.!!
👉 नहीं चाहिए ऐसी “शक्ति” जिसका,
“निर्बल” पर प्रयोग  करूँ.!!
👉 नहीं चाहिए ऐसा “भाव” कि,
किसी को देख   “जल-जल” मरूँ.!!
👉 ऐसा “ज्ञान” मुझे नi देना,’
“अभिमान” जिसका होने लगे !!
👉 ऐसी “चतुराई” भी न देना जो,
लोगों को “छलने” लगे!।।



एक फकीर बहुत दिनों तक बादशाह के साथ रहा
बादशाह का बहुत प्रेम उस फकीर पर हो गया। प्रेम
भी इतना कि बादशाह रात को भी उसे अपने कमरे में
सुलाता।

कोई भी काम होता, दोनों साथ-साथ ही
करते।

एक दिन दोनों शिकार खेलने गए और रास्ता भटक
गए। भूखे-प्यासे एक पेड़ के नीचे पहुंचे। पेड़ पर एक
ही फल लगा था।

बादशाह ने घोड़े पर चढ़कर फल को
अपने हाथ से तोड़ा। बादशाह ने फल के छह टुकड़े
किए और अपनी आदत के मुताबिक पहला टुकड़ा
फकीर को दिया।

फकीर ने टुकड़ा खाया और बोला,
‘बहुत स्वादिष्ट! ऎसा फल कभी नहीं खाया। एक
टुकड़ा और दे दें। दूसरा टुकड़ा भी फकीर को मिल
गया।

फकीर ने एक टुकड़ा और बादशाह से मांग
लिया। इसी तरह फकीर ने पांच टुकड़े मांग कर खा
लिए।

जब फकीर ने आखिरी टुकड़ा मांगा, तो बादशाह ने
कहा, ‘यह सीमा से बाहर है। आखिर मैं भी तो भूखा
हूं।

मेरा तुम पर प्रेम है, पर तुम मुझसे प्रेम नहीं
करते।’ और सम्राट ने फल का टुकड़ा मुंह में रख
लिया।

मुंह में रखते ही राजा ने उसे थूक दिया, क्योंकि वह
कड़वा था।
राजा बोला,
‘तुम पागल तो नहीं, इतना कड़वा फल कैसे खा गए?


उस फकीर का उत्तर था,
‘जिन हाथों से बहुत मीठे फल खाने को मिले, एक
कड़वे फल की शिकायत कैसे करूं?

सब टुकड़े इसलिए
लेता गया ताकि आपको पता न चले।

दोस्तों जँहा मित्रता हो वँहा संदेह न हो, आओ
कुछ ऐसे रिश्ते रचे…

कुछ हमसे सीखें , कुछ हमे
सिखाएं..



👌  बहुत सुन्दर पंक्ति 👌

“जो मुस्कुरा रहा है, उसे दर्द ने पाला होगा…,
जो चल रहा है, उसके पाँव में छाला होगा…,
बिना संघर्ष के इन्सान चमक नही सकता, यारों…,
जो जलेगा उसी दिये में तो, उजाला होगा…।”💐🙏 💐
सुप्रभात जय राम



👫बेटा-बहु अपने बैडरूम में बातें कर रहे थे। द्वार खुला होने के
कारण उनकी आवाजें बाहर कमरे में बैठी
माँ को भी सुनाई दे रहीं थीं।🙌
🚶बेटा—” अपने job के कारण हम माँ का ध्यान नहीं
रख पाएँगे, उनकी देखभाल कौन करेगा ? क्यूँ ना, उन्हें
वृद्धाश्रम में दाखिल करा दें, वहाँ उनकी देखभाल
भी होगी और हम भी
कभी कभी उनसे मिलते रहेंगे👣
💃बेटे की बात पर बहु ने जो कहा, उसे सुनकर माँ
की आँखों में आँसू आ गए।👁
.
.
.
.
.
.
.
👄बहु—” पैसे कमाने के लिए तो पूरी जिंदगी
पड़ी है जी, लेकिन माँ का
आशीष जितना भी मिले, वो कम है। उनके
लिए पैसों से ज्यादा हमारा संग-साथ जरूरी है।
मैं अगर job ना करूँ तो कोई बहुत अधिक नुकसान नहीं
होगा।👏
💃मैं माँ के साथ रहूँगी।
घर पर tution पढ़ाऊँगी,
इससे माँ की देखभाल भी कर
पाऊँगी।🙌
💞याद करो, तुम्हारे बचपन में ही तुम्हारे पिता
नहीं रहे और घरेलू काम धाम करके
तुम्हारी माँ ने तुम्हारा पालन पोषण किया, तुम्हें पढ़ाया
लिखाया, काबिल बनाया।🏃
👧तब उन्होंने कभी भी पड़ोसन के पास तक
नहीं छोड़ा, कारण तुम्हारी देखभाल कोई
दूसरा अच्छी तरह नहीं करेगा,
और तुम आज ऐंसा बोल रहे हो।
तुम कुछ भी कहो, लेकिन माँ हमारे ही
पास रहेंगी,👫
हमेशा, अंत तक।👣
🙏बहु की उपरोक्त बातें सुन, माँ रोने लगती
है और रोती हुई ही, पूजा घर में
पहुँचती है।
👏ईश्वर के सामने खड़े होकर माँ उनका आभार मानती है
और उनसे कहती है—” भगवान, तुमने मुझे
बेटी नहीं दी, इस वजह से
कितनी ही बार मैं तुम्हे भला बुरा
कहती रहती थी,
लेकिन
🎭ऐंसी भाग्यलक्ष्मी देने के लिए
तुम्हारा आभार मैं किस तरह मानूँ…?
ऐंसी बहु पाकर, मेरा तो जीवन सफल हो
गया, प्रभु।👏
🙏दोस्तों अपने दोस्तों को भी पढ़वाएं।✍👫✍



👌🏼”तेरा मेरा”करते 👆🏼एक दिन चले जाना
           है…………
जो भी कमाया यही रह जाना है।
      👉🏼कर ले कुछ अच्छे कर्म,
      साथ यही तेरे आना है।
रोने से तो “आंसू”भी पराये हो जाते हैं
लेकिन”:Dमुस्कुराने “से पराये भी अपने          
            हो जाते हैं ………
        मुझे वो 👌🏼रिश्ते पसंद है,
    जिनमें “मैं” नहीं “हम” हो।



“दिखावा”और “झूठ”बोलकर
दोस्त बनाने से अच्छा है,
“सच”बोलकर “दुश्मन”बनालो।
तुम्हारे साथ कभी “विश्वाशघात”नही होगा
   



એક બહુમાળી ઇમારતનું બાંધકામ ચાલી રહ્યુ હતું. લગભગ
10 માળ જેટલું કામ પુરુ થયું હતું. એક વાર સવારના સમયે
કંસ્ટ્રકશન કંપનીનો માલિક ઇમારતની મુલાકાતે આવ્યો.
એ 10માં માળની છત પર આંટા મારી રહ્યો હતો.
ત્યાંથી નીચે જોયુ તો એક મજુર કામ કરી રહ્યો હતો.
માલિકને મજુર સાથે વાત કરવાની ઇચ્છા થઇ.માલિકે
ઉપરથી મજુરને બુમ પાડી પણ મજુર કામમાં વ્યસ્ત
હોવાથી અને આસપાસ અવાજ થતો હોવાથી એને
માલિકનો અવાજ ન સંભળાયો. થોડીવાર પછી મજુરનું
ધ્યાન પોતાના તરફ ખેંચવા માટે માલિકે ઉપરથી 10
રૂપિયાનો સિક્કો ફેંક્યો. આ સિક્કો મજુર કામ
કરતો હતો ત્યાં જ પડ્યો. મજુરે તો સિક્કો ઉઠાવીને
ખીસ્સામાં મુકયો અને કામે વળગી ગયો.માલિકે હવે
100ની નોટ નીચે ફેંકી. નોટ
ઉડતી ઉડતી પેલા મજુરથી થોડે દુર પડી.
મજુરની નજરમાં આ નોટ આવી એટલે લઇને
ફરીથી ખિસ્સામાં મુકી દીધી અને કામ કરવા લાગ્યો.
માલિકે હવે 500ની નોટ નીચે ફેંકી તો પણ પેલા મજુરે એમ
જ કર્યુ જે અગાઉ બે વખત કર્યુ હતું. માલિકે હવે
હાથમાં નાનો પથ્થર લીધો અને પેલા મજુર પર માર્યો.
પથ્થર વાગ્યો એટલે મજુરે ઉપર જોયું અને
પોતાના માલિકને ઉપર જોતા તેની સાથે વાત ચાલુ
કરી.મિત્રો, આપણે પણ આ મજુર જેવા જ છીએ.
ભગવાનને આપણી સાથે વાત કરવાની ઇચ્છા હોય છે એ
આપણને સાદ પાડીને બોલાવે છે પણ આપણે
કામમાં એવા વ્યસ્ત છીએ કે પ્રભુનો સાદ આપણને
સંભળાતો જ નથી. પછી એ નાની નાની ખુશીઓ આપવાનું
શરુ કરે છે પણ આપણે એ ખુશીઓને ખિસ્સામાં મુકી દઇએ
છીએ ખુશી આપનારાનો વિચાર જ નથી આવતો. છેવટે
ભગવાન દુ:ખ રૂપી નાનો પથ્થર આપણા પર ફેંકે છે અને
તુંરત જ ઉપર ઉભેલા માલિક સામે જોઇએ છીએ.



👌🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

इस संसार में मनुष्य जिस तरह खाली आता है उसी तरह खाली हाथ विदा भी होता है। मनुष्य जब विदा होता है या उसकी मृत्यु होती है तो उसके द्वारा संचित हर वस्तु यहीं रह जाती है। मनुष्य उन्हें छोड़कर चला जाता है।

मनुष्य जीवन भर किसी भी भौतिक वस्तु, जो उसे थोड़ी देर के लिए शारीरिक एवं मानसिक सुख दे सकें।

उसे किसी भी प्रकार से एकत्रित करने में अपना समय व्यतीत करता है, जबकि धन वैभव उसे आत्मिक सुख-शांति नहीं दे सकते हैं। यह सब जानते हुए मनुष्य जीवन को सुधारने की कोशिश नहीं करता है।



जीवन में यही देखना महत्वपूर्ण नहीं कि कौन हमसे आगे है या कौन पीछे,

यह भी देखना चाहिए कि कौन हमारे साथ है और हम किसके साथ….!!!

“जुड़ना बड़ी बात नही,
जुड़े रहना बड़ी बात है.”

🙏🏻🙏🏻सुप्रभात🙏🏻🙏🏻
☕☕☕☕☕☕



बहुत ही सुंदर पंक्तियां भेजी है, फारवर्ड करने से खुद को रोक नहीं पाया ….

जब भी अपनी शख्शियत पर अहंकार हो,
एक फेरा शमशान का जरुर लगा लेना।

और….

जब भी अपने परमात्मा से प्यार हो,
किसी भूखे को अपने हाथों से खिला देना।

जब भी अपनी ताक़त पर गुरुर हो,
एक फेरा वृद्धा आश्रम का लगा लेना।

और….

जब भी आपका सिर श्रद्धा से झुका हो,
अपने माँ बाप के पैर जरूर दबा देना।

जीभ जन्म से होती है और मृत्यु तक रहती है क्योकि वो कोमल होती है.

दाँत जन्म के बाद में आते है और मृत्यु से पहले चले जाते हैं…  
  क्योकि वो कठोर होते है।

छोटा बनके रहोगे तो मिलेगी हर
बड़ी रहमत…
बड़ा होने पर तो माँ भी गोद से उतार
देती है..
किस्मत और पत्नी
भले ही परेशान करती है लेकिन
जब साथ देती हैं तो
ज़िन्दगी बदल देती हैं.।।

“प्रेम चाहिये तो समर्पण खर्च करना होगा।

विश्वास चाहिये तो निष्ठा खर्च करनी होगी।

साथ चाहिये तो समय खर्च करना होगा।

किसने कहा रिश्ते मुफ्त मिलते हैं ।
मुफ्त तो हवा भी नहीं मिलती ।

एक साँस भी तब आती है,
जब एक साँस छोड़ी जाती है!!”?.:  🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱
नंगे पाँव चलते “इन्सान” को लगता है
कि “चप्पल होते तो क अच्छा होता”
बाद मेँ……….
“साइकिल होती तो कितना अच्छा होता”
उसके बाद में………
“मोपेड होता तो थकान नही लगती”
बाद में………
“मोटर साइकिल होती तो बातो-बातो मेँ
रास्ता कट जाता”

फिर ऐसा लगा की………
“कार होती तो धूप नही लगती”
🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀
फिर लगा कि,
“हवाई जहाज होता तो इस ट्रैफिक का झंझट
नही होता”
🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱
जब हवाई जहाज में बैठकर नीचे हरे-भरे घास के मैदान
देखता है तो सोचता है,
कि “नंगे पाव घास में चलता तो दिल
को कितनी “तसल्ली” मिलती”…..
🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀
” जरुरत के मुताबिक “जिंदगी” जिओ – “ख्वाहिश”….. के
मुताबिक नहीं………
🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱
क्योंकि ‘जरुरत’
तो ‘फकीरों’ की भी ‘पूरी’ हो जाती है, और
‘ख्वाहिशें’….. ‘बादशाहों ‘ की भी “अधूरी” रह जाती है”…..
🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀
“जीत” किसके लिए, ‘हार’ किसके लिए
‘ज़िंदगी भर’ ये ‘तकरार’ किसके लिए…
🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱
जो भी ‘आया’ है वो ‘जायेगा’ एक दिन
फिर ये इतना “अहंकार” किसके लिए…
🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀
ए बुरे वक़्त !
ज़रा “अदब” से पेश आ !!
“वक़्त” ही कितना लगता है
“वक़्त” बदलने में………
🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱
मिली थी ‘जिन्दगी’ , किसी के
‘काम’ आने के लिए…..
पर ‘वक्त’ बीत रहा है , “कागज” के “टुकड़े” “कमाने” के लिए………
🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱🍀🌱         ,   



💐
पहचान से मिला काम बहोत कम समय के लिए टिकता है ..,

पर काम से मिली पहचान उम्रभर कायम रहती है …
💐



एक लड़का एक लड़की को छेड़ रहा था ,

लड़की ने उसे कहा-क्या प्रॉब्लम है,

बुलाऊ पुलिस को . . ?

लड़के ने कहा –
पुलिस को बुलाएगी .

बुला पुलिस को ,

तेरी जेसी बहोत देखी है मैंने . .

और उसने उस पर बन्दुक तान दी ,

वो लड़की रोने लग गयी . ?

पास में बहुत सारी भीड़ इकठ्ठी हो गयी ,

सब तमाशा देख रहे थे ,

इतने में जो लड़के ने कहा उसे सुनकर सब
ताज्जुब में पड़ गए ,

शर्म के मारे किसी का सर नही उठा .

लड़के ने कहा –
बचाने नही आओगे इसे . ?

क्या इतनी भीड़ में किसी की हिम्मत नही ,
की इस लड़की को बचा सके ,

कल जब इंडिया गेट पर इसकी लाश
पड़ी होगी ,
तब जनाजे में बहोत भीड़ होगी .

इसकी जगह आपकी कोई बहन होती ,
तो क्या आप ऐसे ही खड़े
तमाशा देखते . ?

क्या इस लड़की की मौत पर
सिर्फ न्यूज़ पेपर पर हेड लाइन ही काफी है क्या . ?

क्या यही है हमारा देश ,
यही है हमारे देश के युवा . ?

मर जाना चाहिए तुमको . .
की तुम अपनी बहन बेटियो के हिफाजत नही कर सकते . ?

सबको अपने फेसबुक प्रोफाइल पर तिरंगे या देशभक्ति की पिक्चर लगाने का शौक है .
लेकिन कोई उसकी
मर्यादा का ध्यान नही देता ,

ये लड़की मर रही है तुम
लोग तमाशा देख रहे हो . ?

फिर उस लड़के ने कहा –
इस लड़की जेसी मेरी बहन थी .
मार डाला . दरिंदो ने,
तुम लोगो की हैवानियत ने .

सब ऐसे ही तमाशा देखते रह गए , किसी ने उसकी मदद नही की . ?

अब यही होगा तुम लोगो के साथ ,

फिर देखना तमाशा . ?

फिर उस लड़के ने उस लड़की से माफ़ी मागते हुए कहा –
बहन माफ़ करना ,
मेरा आपका दिल दुखाने का इरादा
नही था .

शायद मेरे इस प्रयास से इन लोगो की
अंतरात्मा जाग जाए .?

उस लड़की ने वापस कहा –
भैया आपको मेरा सलाम ,

काश सब ऐसे होते तो आपकी बहन आज जिन्दा होती ,

आज से आप मेरे भाई हो .

Tumko Tumari Sister Ki Kasam Apke Pass Jitne
Group He Us Sab Group Me Send Kare                              sory yaar muje bhi kasam di gayi he…..

    I love my sister



👌बहुत सुन्दर सन्देश👌

लोहे को कोई नष्ट नहीं  कर सकता बस उसका जंग….. उसे नष्ट करता है,

इसी तरह आदमी को भी कोई और नहीं बल्कि उसकी सोच….. ही नष्ट कर सकती है!!

सोच अच्छी रखो,
निश्चित अच्छा …… ही होगा
              🌹🙏🏼🌹



👌
ये दुनिया तब ओर भी हसीन लगेगी,

जब रोज डे, 🌹
चोकलेट डे 🍫
और
टेडी डे 🐹
की जगह…..🍁
🔱♠❤
गरीबो के लिए
कम्बल डे,
स्वेटर डे, 👕
चप्पल डे, 👡👡
खाना डे…🍝🍜
भी मनाया जायेगा…..🙏🏼



बहु ने आइने मेँ लिपिस्टिक ठिक
करते हुऐ
कहा -:
“माँ जी, आप
अपना खाना बना लेना,
मुझे और इन्हें आज एक
पार्टी में जाना है …!!
“बुढ़ी माँ ने कहा -: “बेटी मुझे
गैस वाला
चुल्हा चलाना नहीं आता …!!
“तो बेटे ने कहा -:
“माँ, पास वाले मंदिर में आज
भंडारा है ,
तुम वहाँ चली जाओ
ना खाना बनाने की कोई
नौबत
ही नहीं आयेगी….!!!
“माँ चुपचाप अपनी चप्पल पहन
कर मंदिर
की ओर
हो चली…..
यह पुरा वाक्या 10 साल
का बेटा रोहन सुन
रहा था |
पार्टी में जाते वक्त रास्ते में
रोहन ने अपने
पापा से
कहा -:
“पापा, मैं जब बहुत
बड़ा आदमी बन जाऊंगा ना
तब मैं भी अपना घर
किसी मंदिर के पास
ही बनाऊंगा ….!!!
माँ ने उत्सुकतावश पुछा -:
क्यों बेटा ?
….रोहन ने जो जवाब दिया उसे
सुनकर उस बेटे
और बहु
का सिर शर्म से नीचे झुक
गया जो
अपनी माँ को मंदिर में छोड़ आए
थे…..
रोहन ने कहा -: क्योंकि माँ,
जब मुझे भी किसी दिन
ऐसी ही किसी
पार्टी में
जाना होगा तब तुम
भी तो किसी मंदिर में
भंडारे में खाना खाने जाओगी ना
और मैं
नहीं चाहता कि तुम्हें कहीं दूर
के मंदिर में
जाना पड़े….!!!!
पत्थर तब तक सलामत है
जब तक
वो पर्वत से जुड़ा है .
पत्ता तब तक सलामत
है जब तक वो पेड़ से जुड़ा है
. इंसान तब तक
सलामत है
जब तक वो परिवार से
जुड़ा है .
क्योंकि परिवार से अलग होकर
आज़ादी तो मिल जाती है
लेकिन संस्कार चले
जाते हैं ..
एक कब्र पर लिखा था…
“किस को क्या इलज़ाम दूं
दोस्तो…,
जिन्दगी में सताने वाले भी अपने
थे,
और दफनाने वाले
भी अपने थे…
.
अच्छी लगे तो आगे जरुर शेयर
करना
‬: न अपनों से खुलता है,

न ही गैरों से खुलता है.

ये जन्नत का दरवाज़ा है,

मेरी माँ के पैरो से खुलता है.!!
💕 love u माँ



1.सब्र कर बन्दे ..
मुसीबत के दिन गुजर जायेंगे !!

आज जो तुझे देख के हंसते है ,
वो कल तुझे देखते रह जायेंगे !!

त्याग दे सब ख्वाहिशे ..
कुछ अलग करने के लिए !!

” राम ” ने भी खोया बहुत कुछ ,
” श्री राम ” बनने के लिए ..!!

2.समस्याएं इतनी ताक़तवर नहीं हो सकती जितना हम इन्हें मान लेते हैं ,
कभी सुना है ?
कि
अंधेरों ने सुबह ही ना होने दी हो.

3.जिंदगी ऐसे जियो कि कोई हँसे तो
“आपकी” वजह से हँसे,
आप पर नही.
और
कोई रोऐ तो “आपके” लिऐ रोऐ,
आपकी वजह से नही.

4.एक विचारक ने कहा कि मनुष्य में धैर्य हो तो बड़ी से बड़ी समस्या का समाधान हो सकता है…..
एक व्यक्ति ने प्रश्न किया कि….
क्या धैर्य से आप चलनी में पानी को ठहरा सकते हो…
क्या ये संभव है…??

विचारक का जवाब था कि…..
‘पानी’ को ‘बर्फ़’ बनने तक का तुम में ‘धैर्य’ होगा तो…
यह भी संभव है…..



जहाँ दुसरों को समझाना
मुश्किल हो जायें,
वहाँ खुद को ही
समझा लेना बेहतर है  !!



एक गरीब परिवार में एक सुन्दर सी बेटी👰 ने जन्म लिया..

बाप दुखी हो गया बेटा पैदा होता तो कम से कम काम में तो हाथ बटाता,,
        उसने बेटी को पाला जरूर,
मगर दिल से नही….

वो पढने जाती थी तो ना ही स्कूल की फीस टाइम से जमा करता,
और ना ही कापी किताबों पर ध्यान देता था…
अक्सर दारू पी कर घर में कोहराम मचाता था……..

उस लडकी की मॉ बहुत अच्छी व बहुत भोली भाली थी वो अपनी बेटी को बडे लाड प्यार से रखती थी..
वो पति से छुपा-छुपा कर बेटी की फीस जमा करती
और कापी किताबों का खर्चा देती थी..
अपना पेट काटकर फटे पुराने कपडे पहन कर गुजारा कर लेती थी,
मगर बेटी का पूरा खयाल रखती थी…

पति अक्सर घर से कई कई दिनों के लिये गायब हो जाता था.

जितना कमाता था दारू मे ही फूक देता था…

वक्त का पहिया घूमता गया




बेटी धीरे-धीरे समझदार हो गयी..
दसवीं क्लास में उसका एडमीसन होना था.
मॉ के पास इतने पैसै ना थे जो बेटी का  स्कूल में दाखिला करा पाती..
बेटी डरडराते हुये पापा से बोली:
पापा मैं पढना चाहती हूं मेरा हाईस्कूल में एडमीसन करा दीजिए मम्मी के पास पैसै नही है…
बेटी की बात सुनते ही बाप आग वबूला हो गया और चिल्लाने लगा बोला: तू कितनी भी पड लिख जाये तुझे तो चौका चूल्हा ही सम्भालना है क्या करेगी तू ज्यादा पड लिख कर..

उस दिन उसने घर में आतंक मचाया व सबको मारा पीटा

बाप का व्यहार देखकर बेटी ने मन ही मन में सोच लिया कि अब वो आगे की पढाई नही करेगी….
एक दिन उसकी मॉ बाजार गयी

बेटी ने पूछा:मॉ कहॉ गयी थी
मॉ ने उसकी बात को अनसुना करते हुये कहा :
बेटी कल मै तेरा स्कूल में दाखिला कराउगी
बेटी ने कहा: नही़ं मॉ मै अब नही पडूगी मेरी वजह से तुम्हे कितनी परेशानी उठानी पडती है पापा भी तुमको मारते पीटते हैं कहते कहते रोने लगी..
मॉ ने उसे सीने से लगाते हुये कहा: बेटी मै बाजार से कुछ रुपये लेकर आयी हूं मै कराउगी तेरा दखिला..
बेटी ने मॉ की ओर  देखते हुये पूछा: मॉ तुम इतने पैसै कहॉसे लायी हो??
मॉ ने उसकी बात को फिर अनसुना कर दिया…

वक्त वीतता गया



“मॉ ने जी तोड मेहनत करके बेटी को पढाया लिखाया
बेटी ने भी मॉ की मेहनत को देखते हुये मन लगा कर दिन रात पढाई की
और आगे बडती चली गयी…….
“”””
“””””””
“”””””””””
इधर बाप दारू पी पी कर बीमार पड गया
डाक्टर के पास ले गये
डाक्टर ने कहा इनको टी.बी. है
“””
“””””
एक दिन तबियत ज्यादा गम्भीर होने पर बेहोशी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया..
दो दिन बाद उस जबे होश आया तो डाक्टरनी का चेहरा देखकर उसके होश उड गये:oops::oops:

वो डाक्टरनी कोई और नही वल्कि उसकी

अपनी बेटी थी..

शर्म से पानी पानी बाप
कपडे से अपना चेहरा छुपाने लगा
और रोने लगा हाथ जोडकर बोला: बेटी मुझे माफ करना मैं तुझे समझ ना सका…

दोस्तों बेटी 💎आखिर बेटी होती है
,,,,,,,,
बाप को रोते 😥देखकर बेटी ने बाप को गले लगा लिया..

“”””””
दोस्तों गरीबी और अमीरी से कोई फर्क नहीं पडता,,
अगर इन्सान का इरादा हो तो आसमान में भी छेद हो सकता है

किसी ने खूब कहा //

“कौन कहता है कि आसमान मे छेद नही हो सकता,,
              अरे एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों”

“””

एक दिन बेटी माँ से बोली: माँ तुमने मुझे आजतक नहीं बताया कि मेरे हाईस्कूल के एडमीसन के लिये पैसै कहाँ से लायी थी??

बेटी के बार बार पूछने पर
माँ ने जो बात बतायी
उसे सुनकर
बेटी की रूह काँप गयी….

माँ ने अपने शरीर का खून बेच कर बेटी का एडमीसन कराया था….

दोस्तों तभी तो मॉ को भगवान का दर्जा दिया गया है
माँ जितना औलाद के लिये त्याग कर सकती है
उतना दुनियाँ में कोई और नही..

दो पंक्तियाँ माँ के लिये::::
गोदी में मुझको सुलाया है माँ ने,,
बडे प्यार से अपनी मीठी जुवॉ से,
बेटा कह कर बुलाया है माँ ने,,
मुझको लेके अपनी नरम बाजुओं मे,
मोहब्बत का झूला झुलाया है माँ ने,,
सभी जख्म अपने सीने पे लेके,
हर चोट से बचाया है माँ ने,,
कभी मेरे माथे पे काला टीका लगा के,
यूं बचपन में मुझको सजाया है माँ ने,,
यूं चेहरा दिखा के मुझे रोज अपना,
मुझे मेरे रव से मिलाया है माँ ने,,
ऐ इन्सॉ तू जो इतना इतरा के चलता है,
काबिल तुझे इसके बनाया है माँ ने,



🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻

मत सोच की तेरा
    सपना क्यों पूरा नहीं होता…..
हिम्मत वालो का इरादा
         कभी अधुरा नहीं होता….
जिस इंसान के कर्म
                    अच्छे होते है……
उस के जीवन में कभी
               अँधेरा नहीं होता.



कोई-कोई  मैसेज  वाकई  कमाल होता
है आप स्वयं पढ़िये….
        
कितना सत्य है ना…..?
💐💐भक्ति जब भोजन में प्रवेश करती है,
भोजन ” प्रसाद “बन जाता है.।
             💐💐
भक्ति जब भूख में प्रवेश करती है,
भूख ” व्रत ” बन  जाती है.।
          💐💐
भक्ति जब पानी में प्रवेश करती है,
पानी ” चरणामृत ” बन जाता है.।
           💐💐
भक्ति जब सफर में प्रवेश करती है,
सफर ” तीर्थयात्रा ” बन जाता है.।
            🍁🍁
भक्ति जब संगीत में प्रवेश करती है,
संगीत ” कीर्तन ” बन जाता है.।
            🍁🍁
भक्ति जब घर में प्रवेश करती है,
घर ” मन्दिर ” बन जाता है.।
            🌸🌸
भक्ति जब कार्य में प्रवेश करती है,
कार्य ” कर्म ” बन जाता है.।
           🌸🌸
भक्ति जब क्रिया में प्रवेश करती है,
क्रिया “सेवा ” बन जाती है.। और…
           🌻🌻
भक्ति जब व्यक्ति में प्रवेश करती है,
व्यक्ति ” मानव ” बन जाता है..।
🙏🙏🌺🌸🌷



ये कहानी आपके जीने की सोच बदल देगी ?
एक दिन एक किसान का बैल कुएँ में गिर गया।
वह बैल घंटों ज़ोर -ज़ोर से रोता रहा और किसान सुनता रहा और विचार करता रहा कि उसे क्या करना चाहिऐ और क्या नहीं।
अंततः उसने निर्णय लिया कि चूंकि बैल काफी बूढा हो चूका था अतः उसे बचाने से कोई लाभ होने वाला नहीं था और इसलिए उसे कुएँ में ही दफना देना चाहिऐ।। 
किसान ने अपने सभी पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया सभी ने एक-एक फावड़ा पकड़ा और कुएँ में मिट्टी डालनी शुरू कर दी।
जैसे ही बैल कि समझ में आया कि यह क्या हो रहा है वह और ज़ोर-ज़ोर से चीख़ चीख़ कर रोने लगा और फिर ,अचानक वह आश्चर्यजनक रुप से शांत हो गया। 
सब लोग चुपचाप कुएँ में मिट्टी डालते रहे तभी किसान ने कुएँ में झाँका तो वह आश्चर्य से सन्न रह गया..
अपनी पीठ पर पड़ने वाले हर फावड़े की मिट्टी के साथ वह बैल एक आश्चर्यजनक हरकत कर रहा था वह हिल-हिल कर उस मिट्टी को नीचे गिरा देता था और फिर एक कदम बढ़ाकर उस पर चढ़ जाता था। 
जैसे-जैसे किसान तथा उसके पड़ोसी उस पर फावड़ों से मिट्टी गिराते वैसे -वैसे वह हिल-हिल कर उस मिट्टी को गिरा देता और एक सीढी ऊपर चढ़ आता जल्दी ही सबको आश्चर्यचकित करते हुए वह बैल कुएँ के किनारे पर पहुंच गया और फिर कूदकर बाहर भाग गया ।  
ध्यान रखे आपके जीवन में भी बहुत तरह से मिट्टी फेंकी जायेगी बहुत तरह की गंदगी आप पर गिरेगी जैसे कि , 
आपको आगे बढ़ने से रोकने के लिए कोई बेकार में ही आपकी आलोचना करेगा
कोई आपकी सफलता से ईर्ष्या के कारण आपको बेकार में ही भला बुरा कहेगा  
कोई आपसे आगे निकलने के लिए ऐसे रास्ते अपनाता हुआ दिखेगा जो आपके आदर्शों के विरुद्ध होंगे…
ऐसे में आपको हतोत्साहित हो कर कुएँ में ही नहीं पड़े रहना है बल्कि साहस के साथ हर तरह की गंदगी को गिरा देना है और उससे सीख ले कर उसे सीढ़ी बनाकर बिना अपने आदर्शों का त्याग किये अपने कदमों को आगे बढ़ाते जाना है।
सकारात्मक रहे।
सकारात्मक जिए…….

इस संसार में….
      सबसे बड़ी सम्पत्ति “बुद्धि ”
      सबसे अच्छा हथियार “धैर्य”
     सबसे अच्छी सुरक्षा “विश्वास”
       सबसे बढ़िया दवा “हँसी”
   और आश्चर्य की बात कि
“ये सब निशुल्क हैं ”

       सदा मुस्कुराते रहें।



मनुष्य चेहरा तो साफ़ रखता है, जिस पर लोगों की नज़र होती है;

परन्तु दिल को साफ़ नहीं रखता, जिस पर भगवान की नज़र होती है।
🙏🏻⛅जय श्रीराम⛅🙏🏻



वेलेंटाइन डे आते ही छोटू की आँखों में एकख़ुशी की लहर दौड़

जाती थी ! मंदिर के साइड से लगे दुकान पे

काम करने वाला छोटू

हर बार की तरह इस बार भी खूब सारे

गुलाब की पंखुड़िया खरीद

लाया था ! छोटू को ये

नहीं पता था की वेलेंटाइन डे

होता क्या है ? पर ये जरूर पता था उसे

कि आज दस का बिकने

वाला गुलाब पच्चास में बेचेगा ! वह सुबह से

दौड़ भाग में

लगा था इस उम्मीद में कि आज

अच्छी कमाई कर

लेगा वो..दो तीन घंटे में उसके सारे गुलाब बिक

गए ! उसने

जल्दी से पैसो का गुना भाग करके पाँच

सौ अलग निकल

लिया !

अब फुर्ती से भागकर सेठ के पास

पंहुचा उसकी उधारी चुकाई !

और दनदनाता हुआ बाजार पहुंच गया हीरामन

के

दुकान पे..

“अरे छोटू आज बड़ी जल्दी आ गया रे तू

तो ..?

हा चच्चा आज चौदह फरवरी है न

अरे हाँ में तो भूल ही गया था ..

“बता क्या चाहिए ?

वो हरी वाली फ्रॉक तो दिखाना चच्चा ,

छोटू ने

चहकते हुए कहा

“महंगी है नहीं ले पायेगा

कित्ते कि है ?

“पुरे चार सौ अस्सी कि बोल पैक कर दू क्या.?

छोटू ने कुछ देर सोचते हुए कहा ..

ठीक है चच्चा कर दो पैक..

पाँच सौ में चार सौ अस्सी गया बचा बीस..

अच्छा बीस कि डेरी मिल्क

भी पैक कर दियो चच्चा..

“ये ले कहते हुए चच्चा ने उसे पैकेट थम दिया..

छोटू फुदकते हुए घर पंहुचा माँ से

पूछा “छोटी कहा है..?

यही कही खेल

रही होगी..?

छोटू ने उसे जल्दी से ढूढ़ा और जादू

कि झप्पी देते हुए बोला

“यिप्पी वेलेंटाइन डे छोटी ”

🙏🌹सोच सोच का फरक है प्यार तो प्यार ही होता है🌹🙏



मनुष्य चेहरा तो साफ़ रखता है, जिस पर लोगों की नज़र होती है;

परन्तु दिल को साफ़ नहीं रखता, जिस पर भगवान की नज़र होती है।
🙏🏻⛅जय श्रीराम⛅🙏🏻



हज़ार महफ़िलें हो…
…….लाख मेले हो….

जब तक खुद से…
ना मिलो..
….अकेले ही हो…



🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇

“ईश्वर के हर फैसले पे खुश रहो”
            क्युकि
“ईश्वर वो नही देता जो आपको
      अच्छा लगता है”
             बल्की
“ईश्वर वो देता हे जो आपके
     लिये अच्छा होता है…!!!”

       🍇Good Morning🍇
🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇🍇
           🙏सुप्रभात🙏



एक आदमी ने भगवान बुद्ध  से पुछा : जीवन का मूल्य क्या है?

बुद्ध  ने उसे एक Stone दिया और कहा : जा और इस stone का
मूल्य पता करके आ , लेकिन ध्यान रखना stone को बेचना नही है I

वह आदमी stone को बाजार मे एक संतरे वाले के पास लेकर गया और बोला : इसकी कीमत क्या है?

संतरे वाला चमकीले stone को देखकर बोला, “12 संतरे लेजा और इसे मुझे दे जा”

आगे एक सब्जी वाले ने उस चमकीले stone को देखा और कहा
“एक बोरी आलू ले जा और इस stone को मेरे पास छोड़ जा”

आगे एक सोना बेचने वाले के
पास गया उसे stone दिखाया सुनार उस चमकीले stone को देखकर बोला,  “50 लाख मे बेच दे” l

उसने मना कर दिया तो सुनार बोला “2 करोड़ मे दे दे या बता इसकी कीमत जो माँगेगा वह दूँगा तुझे..

उस आदमी ने सुनार से कहा मेरे गुरू ने इसे बेचने से मना किया है l

आगे हीरे बेचने वाले एक जौहरी के पास गया उसे stone दिखाया l

जौहरी ने जब उस बेसकीमती रुबी को देखा , तो पहले उसने रुबी के पास एक लाल कपडा बिछाया फिर उस बेसकीमती रुबी की परिक्रमा लगाई माथा टेका l

फिर जौहरी बोला , “कहा से लाया है ये बेसकीमती रुबी? सारी कायनात , सारी दुनिया को बेचकर भी इसकी कीमत नही लगाई जा सकती ये तो बेसकीमती है l”

वह आदमी हैरान परेशान होकर सीधे बुद्ध  के पास आया l

अपनी आप बिती बताई और बोला “अब बताओ भगवान , मानवीय जीवन का मूल्य क्या है?

बुद्ध  बोले :

संतरे वाले को दिखाया उसने इसकी कीमत “12 संतरे” की बताई l

सब्जी वाले के पास गया उसने इसकी कीमत “1 बोरी आलू” बताई l

आगे सुनार ने “2 करोड़” बताई lऔर जौहरी ने इसे “बेसकीमती” बताया l

अब ऐसा ही मानवीय मूल्य का भी है l

तू बेशक हीरा है..!!लेकिन, सामने वाला तेरी कीमत,
अपनी औकात – अपनी जानकारी –  अपनी हैसियत से लगाएगा।

घबराओ मत दुनिया में.. तुझे पहचानने वाले भी मिल जायेगे।

Respect Yourself,
You are very Unique..👌👌👌👌👌



एक शर्मनाक
                 कड़वी सच्चाई..

नदी तालाब में नहाने में शर्म आती है,
और
स्विमिंग पूल में तैरने को फैशन कहते हैं,
.
गरीब को एक रुपया दान नहीं कर सकते,
और
वेटर को टिप देने में गर्व महसूस करते हैं.
.
माँ बाप को एक गिलास पानी भी नहीं दे सकते,
और
नेताओं को देखते ही वेटर बन जाते हैं.
.
बड़ों के आगे सिर ढकने में प्रॉब्लम है,
लेकिन
धूल से बचने के लिए ‘ममी’ बनने को भी तैयार हैं.
.
पंगत में बैठकर खाना दकियानूसी लगता है,
और
पार्टियों में खाने के लिए लाइन लगाना अच्छा लगता है.
.
बहन कुछ माँगे तो फिजूल खर्च लगता है,
और
गर्लफ्रेन्ड की डिमांड को अपना सौभाग्य समझते हैं.
.
गरीब की  सब्ज़ियाँ खरीदने मे इन्सल्ट होती है,
और
शॉपिंग मॉल में अपनी जेब कटवाना गर्व की बात है.
.
बाप के मरने पर सिर मुंडवाने में हिचकते हैं.
और
‘गजनी’ लुक के लिए हर महीने गंजे हो सकते हैं.
.
कोई पंडित अगर चोटी रखे तो उसे एन्टीना कहते हैं.
और
शाहरुख के ‘डॉन’ लुक के दीवाने बने फिरते हैं.
.
किसानों के द्वारा उगाया अनाज खाने लायक नहीं लगता,
और
उसी अनाज को पॉलिश कर के कम्पनियाँ बेचें,
तो
क्वालिटी नजर आने लगती है…॥

ये सब मात्र
            अपसंस्कृति ही नही,
वरन्
देश व समाज का
             दुर्भाग्य भी है ।
.

अगर सहमत हों
          तो आगे प्रेषित करें..॥



“भगवान् से न डरो तो चलेगा, लेकिन कर्मो से जरूर डरना….
क्योंकि….
किये हुये कर्मो का फल तो भगवान् को भी भोगना पड़ता है”
🌹🌿सुप्रभात🌿🌹



5 लाँख की गाडी मे कभी मिट्टी का तेल नही डालते

क्यों ?

गाडी का इंजन खराब हो जायेगा…
5 लाँख की गाडी की आपको इतनी चिंता है..?

कभी मुँह मे  शराब  या गुटका डालने के पहले सोचा की किडनी , लिवर खराब हो गया

तो…??

करोडो के इस अनमोल शरीर के इंजन की भी उतनी ही चिंता करो जितनी अपनी गाडी की करते हो…

दुनियाँ के लिए आप एक व्यक्ति हैं , लेकिन परिवार के लिए आप पूरी दूनियाँ हैं

आप अपना ख्याल रखें
गुटखा , बीड़ी , सिग्रेट, शराब  जैसे व्यसन से दुर रहीये

यह मेसेज हर इंसान को भेजिए
शायद

किसी की जिंदगी बदल जाये



“ना शौक़ बड़ा दिखने का, ना तमन्ना ख़ुदा होने की, आरज़ू एक
है

हमारा जनम सफल हो, बस कोशिश इक अच्छा इंसान होने की।”



रोजी रोटी कमाना कोई
हुनर की बात नही है…
परिवार के साथ राजी राजी रोटी खाना, हुनर कहलाता है.!!🎀🎎🎀
Duniya Ki Sabse Sunder Line :-

” माँ ” और ” बीवी ”
इन दोनो को , हमेशा                                        ‘ ईज्जत’और ‘ मोहब्बत ‘ दो…
            क्योंकि,
     एक, तुम्हे इस ” दुनिया ” में लायी है !
               और
     दुसरी , ” सारी दुनिया को छोड़कर ” तुम्हारे पास आयी है !



જીવનભરની વધુપડતી કમાણીની
આ જ છે યાત્રા,
ટેબલ પર ચાંદીની થાળી,
અને ભોજન માં ડાયેટ ખાખરા…!!!



” एक ‘इच्छा’ कुछ नहीं बदलती, एक ‘निर्णय’ कुछ बदलता है, लेकिन एक ‘निश्चय’ सब कुछ बदल देता है .”
🌹Good Morning 🌹



ज़िन्दगी गुज़र जाती है ये ढूँढने में कि…..ढूंढना क्या है..!!

अंत में तलाश सिमट जाती है इस सुकून में कि… जो मिला.. वो भी कहाँ साथ लेकर जाना है .. !!…✍



अगर एक हारा हुआ इंसान
हारने के बाद भी
“मुस्करा” दे…!!
तो……..!!
जितने वाला भी जीत की
खुशी खो देता हैं।
“ये है मुस्कान की ताकत”☺:)



Tutne aur bikhrne ka chalan maang liya

Halat se hmne sishe ka badan maag liya

Hm bhi khade the takdir ke darvaje pe

log dault pe gire hmne watan maang liya

JAI HIND🇮🇳



ये है ज़िन्दगी-

ණ~ #किसी के #घर आज नई #कार आई,,,


और #किसी के घर #मां_की_दवाई ###उधार आई..~🙏
  So please helpfull for needfull person
          🙏🏻Jay hind🙏🏻



`      GOLDEN LINES FOR THE  LIFE

दिल में “बुराई” रखने से बेहतर है, कि “नाराजगी” जाहिर कर दो ।
जहाँ दूसरों को “समझाना” कठिन हो, वहाँ खुद को समझ लेना ही बेहतर है ।
“खुश” रहने का सीधा सा एक ही “मंत्र” है, कि “उम्मीद” अपने आप से रखो, किसी और से नहीं ।



👉🏻कड़वा सच👈🏻
आदमी भगवान से ,
लाखो करोड़ो की चाहत रखता है
लेकिन जब मंदिर जाता है तो ,
जेब में सिक्के ढूँढता है

🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽



कुछ ना पा सके तो क्या गम है..
माता पिता को पाया है ये क्या कम है
जो थोडी सी जगह मिली है
इनके चरणों में,
वो क्या किसी जन्नत से कम है !!



ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता,
नोटों में भी लिपट क र, सोने में सिमटकर मरे हे कई,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं .
..- ._.–.
‘-., .’
_-‘ मेरा ‘-._ _.._
._.-.’ ‘ -‘ .-‘
‘._/| INDIA ”. ;’-
‘. /
‘. .’
\ /
‘ ‘
26 जनवरी तक पूरे
INDIA मे
हर किसी के मोबाईल मे
ये मेसेज पहुंचाहिए
ये अपना फर्ज है!
मेरा भारत महान

-BY pal boy delhi
8750403494



लोको शु कहेसे.???
ए विचारिने जीवता हो तो पछि…
‘ईश्वर’ शु कहेसे.???
एनो विचार पण अवश्य करजो ||

🙏 GooD MorninG 🙏
     🙏🌹 😍 🌹 🙏
          🙏 🌹  🙏
                 🙏



“If you can’t excel with talent, triumph with effort.”
–Dave Weinbaum
“यदि आप प्रतिभा के साथ उत्कृष्टता प्राप्त नहीं कर सकते हैं, तो प्रयास से विजयी बनें।”
–डेव वीनबाउम)



Is massage ko tabhi padna jab aap isko forwd karne jitni fursat ho
💇💇💇💇💇💇💇

एक औरत गर्भ से थी
पति को जब पता लगा
की कोख में बेटी हैं तो
वो उसका गर्भपात
करवाना चाहते हैं
दुःखी होकर पत्नी अपने
पति से क्या कहती हैं :-

सुनो,
ना मारो इस नन्ही कलि को,
वो खूब सारा प्यार हम पर
लुटायेगी,
जितने भी टूटे हैं सपने,
फिर से वो सब सजाएगी..

सुनो,
ना मारो इस नन्ही कलि को,
जब जब घर आओगे
तुम्हे खूब हंसाएगी,
तुम प्यार ना करना
बेशक उसको,
वो अपना प्यार लुटाएगी..

सुनो
ना मारो इस नन्ही कलि को,
हर काम की चिंता
एक पल में भगाएगी,
किस्मत को दोष ना दो,
वो अपना घर
आंगन महकाएगी..

💇💇💇💇💇💇💇💇💇💇
😑ये सब सुन पति
अपनी पत्नी को कहता हैं :-

👧👧👧👧👧👧👧
👩सुनो
में भी नही चाहता मारना
इसनन्ही कलि को,
तुम क्या जानो,
प्यार नहीं हैं
क्या मुझको अपनी परी से,
पर डरता हूँ
समाज में हो रही रोज रोज
की दरिंदगी से..

👼👼👼👼👼👼👼😿
:oops:क्या फिर खुद वो इन सबसे अपनी लाज बचा पाएगी,
क्यूँ ना मारू में इस कलि को,
वो बाहर नोची जाएगी..
में प्यार इसे खूब दूंगा,
पर बाहर किस किस से
बचाऊंगा,
👸👸👸👸👸👸👸👸
😨जब उठेगी हर तरफ से
नजरें, तो रोक खुद को
ना पाउँगा..
क्या तू अपनी नन्ही परी को,
इस दौर में लाना चाहोगी,

👨👨👨👨👨👨👨👨👨👨
:(जब तड़फेगी वो नजरो के आगे, क्या वो सब सह पाओगी,
क्यों ना मारूँ में अपनी नन्ही परी को, क्या बीती होगी उनपे,
जिन्हें मिला हैं ऐसा नजराना,
क्या तू भी अपनी परी को
ऐसी मौत दिलाना चाहोगी..

🙅🙅🙅🙅🙅🙅🙅🙅🙅
👼ये सुनकर गर्भ से
आवाज आती है…..ं
सुनो माँ पापा-
मैं आपकी बेटी हूँ
मेरी भी सुनो :-

👧👧👧👧👧👧👧👧
🙆पापा सुनो ना,
साथ देना आप मेरा,
मजबूत बनाना मेरे हौसले को,
घर लक्ष्मी है आपकी बेटी,
वक्त पड़ने पर मैं काली भी बन जाऊँगी

👸👸👸👸👸👸👸👸
💁पापा सुनो,
ना मारो अपनी नन्ही कलि को, तुम उड़ान देना मेरे हर वजूद को,
में भी कल्पना चावला की तरह, ऊँची उड़ान भर जाऊँगी..

👧👧👧👧👧👧👧👧
🙅पापा सुनो,
ना मारो अपनी नन्ही कलि को, आप बन जाना मेरी छत्र छाया,
में झाँसी की रानी की तरह खुद की गैरो से लाज बचाऊँगी…

👼👼👼👼👼👼👼👼👼
😗पति (पिता) ये सुन कर
मौन हो गया और उसने अपने फैसले पर शर्मिंदगी महसूस
करने लगा और कहता हैं
अपनी बेटी से :-

👵👵👵👵👵👵👵👵👵👵
:(मैं अब कैसे तुझसे
नजरे मिलाऊंगा,
चल पड़ा था तेरा गला दबाने,
अब कैसे खुद को तेरेे सामने लाऊंगा,
मुझे माफ़ करना
ऐ मेरी बेटी, तुझे इस दुनियां में
सम्मान से लाऊंगा..

👧👧👧👧👧👧👧👧👧
😣वहशी हैं ये दुनिया
तो क्या हुआ, तुझे मैं दुनिया की सबसे बहादुर बिटिया
बनाऊंगा.

👶👶👶👶👶👶👶👶
👨मेरी इस गलती की
मुझे है शर्म,
घर घर जा के सबका
भ्रम मिटाऊंगा
बेटियां बोझ नहीं होती..
अब सारे समाज में
अलख जगाऊंगा!!!
👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪👪

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

Share this beautiful msg
all other group



🍃🍃🌹 पूरी धरा भी अगर साथ दे तो कुछ और बात है,
तू अगर ज़रा भी साथ दे तो कुछ और बात है,
यूँ तो चलने को एक पावँ से भी चलते है लोग,
मगर दूसरा भी साथ दे तो कुछ और बात है।। 🌹🍃🍃 सुप्रभात् 🙏🏻



राम लिखा, रहमान लिखा…गीता📔 और कुरान 📕लिखा….जब बात हुयी पूरी दुनिया को एक लफ्ज में लिखने की ….तब मैंने🙏🙏🙏 “माँ”🙏🙏 का नाम लिखा..®™✒🙏🙏



रात के समय एक दुकानदार अपनी दुकान बन्द ही कर रहा था
कि एक कुत्ता दुकान में आया । उसके मुॅंह में एक थैली थी। जिसमें सामान की लिस्ट और पैसे थे।

दुकानदार ने पैसे लेकर सामान उस थैली में भर दिया।
कुत्ते ने थैली मुॅंह मे उठा ली और चला गया।

दुकानदार आश्चर्यचकित होके कुत्ते के पीछे पीछे गया

ये देखने की इतने समझदार कुत्ते का मालिक कौन है।

कुत्ता बस स्टाॅप पर खडा रहा। थोडी देर बाद एक बस आई जिसमें चढ गया।

कंडक्टर के पास आते ही अपनी गर्दन आगे कर दी।
उस के गले के बेल्ट में पैसे और उसका पता भी था।

कंडक्टर ने पैसे लेकर टिकट कुत्ते के गले के बेल्ट मे रख दिया।

अपना स्टाॅप आते ही कुत्ता आगे के दरवाजे पे चला गया और पूॅंछ हिलाकर कंडक्टर को इशारा कर दिया।
बस के रुकते ही उतरकर चल दिया।

दुकानदार भी पीछे पीछे चल रहा था।
कुत्ते ने घर का दरवाजा अपने पैरोंसे २-३ बार खटखटाया।

अन्दर से उसका मालिक आया और लाठी से उसकी पिटाई कर दी।

दुकानदार ने मालिक से इसका कारण पूछा । मालिक बोला

“साले ने मेरी नींद खराब कर दी। चाबी साथ लेके नहीं जा सकता था गधा।”

जीवन की भी यही सच्चाई है। आपसे लोगों की अपेक्षाओं का कोई अन्त नहीं है।

जहाँ आप चूके
वहीं पर बुराई निकाल लेते हैं
और पिछली सारी अच्छाईयों को
भूल जाते हैं।

देख लो । यह संसार हैं ।



💐💎 जीवन मंत्र  💎💐

१) धीरे बोलिये    👉 शांति मिलेगी

२) अहम छोडिये  👉 बड़े बनेंगे

३) भक्ति कीजिए   👉 मुक्ति मिलेगी

४) विचार कीजिए  👉 ज्ञान मिलेगा

५) सेवा कीजिए    👉 शक्ति मिलेगी

६) सहन कीजिए   👉 देवत्व मिलेगा

७) संतोषी बनिए   👉 सुख मिलेगा.

   👦”इतना छोटा कद रखिए कि सभी आपके साथ बैठ सकें और इतना बडा मन रखिए कि जब आप खडे हो जाऐं तो कोई बैठा न रह सके” 🙏
😌 🙏🌹



गाँव के कुएँ पर 3 महिलाएँ पानी भर रही थीं।

तभी एक महिला का बेटा वहाँ से गुजरा।
उसकी माँ बोली—” वो देखो, मेरा बेटा,
                             इंग्लिश मीडियम में है। ”

थोड़ी देर बाद दूसरी महिला का पुत्र गुजरा।
उसकी माँ बोली—” वो देखो मेरा बेटा,
                             सीबीएसई में है। ”

तभी तीसरी महिला का पुत्र वहाँ से गुजरा,
दुसरे बेटों की तरह ही उसने भी अपनी माँ को देखा
और माँ के पास आया।
पानी से भरी गघरी उठाकर उसने अपने कंधे पर रखी,
दुसरे हाँथ में भरी हुई बाल्टी सम्हाली और
माँ से बोला—” चल माँ, घर चल। ”

उसकी माँ बोली—” ये हिंदी स्कूल में पढता है। ”
उस माँ के चेहरे का आनंद देख बाकी दूसरी
दो महिलाओं की नजरें झुक गईं।

उपरोक्त कथा का तात्पर्य सिर्फ यही है कि,
लाखों रुपए खर्च करके भी संस्कार नहीं खरीदे
जा सकते…!!

अच्छा लगे तो, जरूर शेयर करें।

. 💐



💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐
दिल से बने रिश्तों का नाम नहीं होता,
इनका कभी भी निरर्थक अंजाम नहीं होता,

अगर निभाने का हो जज्बा दोनों तरफ,
तो ये दिल का रिश्ता कभी बदनाम नहीं होता।
💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐



कल जो वो नासमज़
बहन की पढाई के खिलाफ़ था

आज बीवी के इलाज के लिये.
“लेडी डॉक्टर” ढूंढता है.

Great message for “Beti Bachaao.. Beti Padhaao”🙏🙏🙏



भगवान श्री कृष्ण ने गीता में क्या खूब कहा है.,
भाग्य के दरवाजे पर सर पीटने से बेहतर है,
…..   कर्मों का तूफान पैदा करें,
….दरवाजे अपने आप खुल जायेंगे..!!!
💖🍃 !! जय श्री राधे कृष्णा !! 🍃💖



🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀
जब किसी में…
“गुण” “दिखाई” “दे”
“तो”
“मन” “को” “कैमरा” “बना” “लिजिए”❗👌👌

और “जब” किसी में
“अवगुण” “दिखाई” “दे”  तो…
“मन” “को” “आईना” “बना” “लिजिए”❗                    🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀🎀



ग़म एक अनुभव है,
जो हर किसी के पास है..
ख़ुशी एक एहसास है,
जिसकी हर किसी को तलाश है..
पर जिंदगी तो वही जीता है,
जिसे खुद पर विश्वास है..॥



देश में पेट्रोल की कीमत कैसे तय होती है, उसकी पूरी प्रोसेस-

कच्चे तेल की वर्तमान कीमत = 50 डॉलर प्रति बेरेल।
(जहाँ,  $1 = 63/-
और 1 बेरेल = 159 लीटर )

यानी, $50 = Rs.3150/-

1 लिटर कच्चा तेल भारत खरीदता है (3150/159) =19.80 रुपयों में।

1 लिटर पेट्रोल बनाने के लिए लगने वाला कच्चा तेल – 
0.96 लीटर @19.80/- = 19.00/-

अब कच्चे तेल में से एक लीटर पेट्रोल बनाने की फिक्स्ड कीमत होती है 6 रूपये (ट्रांसपोर्टेशन मिलाकर)

यानी, 19.00 रूपये + फिक्स्ड कीमत, 6 रूपये = 25.00 रूपये में एक लिटर पेट्रोल बनता है।

अब उसमे केंद्र सरकार के टेक्स लगता है, 25% यानी 6 रूपये।
यानी 25 + 6 = 31 रूपये।

और उपर से फिर राज्य सरकार के टेक्स जैसे VAT,
जिसे हम एवरेज 15% गिने तो होते है 5 रूपये यानी कुल मिलाकर होते है 36 रूपये।

और आखिर में पेट्रोल पंप डीलरो को पर लीटर 90 पैसे कमिशन दिया जाता है तो होते है कुल 37 रूपये।

लेकिन फिर भी आज हमे 69/- प्रति लीटर में पेट्रोल मिल रहा है॥

कृपया कड़ी मेहनत से प्राप्त हुई ये जानकारी देश के हर एक नागरिक तक पहुँचाने की कोशिश करे ।
शान है या छलावा

पूरे  भारत  मे एक ही  जगह ऐसी  है  जहा खाने  की चीजें  सबसे सस्ती है

चाय = 1.00

सुप = 5.50

दाल= 1.50

खाना =2.00

चपाती  =1.00

चिकन= 24.50

डोसा = 4.00

बिरयानी=8.00

मच्छी= 13.00

ये  सब चीजें  सिर्फ  गरीबो के  लिए  है 
और ये सब Available है  Indian Parliament Canteen मे

और  उन  गरीबो की  पगार है 
80,000 रूपये  महीना वो  भी  बिना income tax के 

आपके mobile मे जितने  भी  नम्बर save है  सबको forwardकरे ताकि  सबको  पता  चले  …

कि यही कारण  है  कि  इन्हे  लगता है  कि जो  आदमी  30 या 32 रूपये  रोज  कमाता है  वो गरीब  नही है

jokes तो हर रोज forward करते  हो  आज  इसे  भी forward करे.                 

PLEASE FORWARD TO ALL GROUP MEMBERS .



जब कोई दिल दुखाये तो बेहतर है चुप रहना चाहिये… क्योंकि.. जिंन्हें हम जवाब नहीं देते.. उन्हें वक़्त जवाब देता हैं |…😒



रावण जब मृत्यु शय्या पर था, तो उसने राम से एक बहुत ही अच्छी बात कही कि, में तुमसे हर मामले में बड़ा हुं, उम्र में, बुद्धि मे, बल मे, मेरा कुटुम्ब भी तुमसे बड़ा है, मेरी लकां सोने की है, धन दौलत मे भी, मेरा राज्य भी तुमसे बड़ा है, इन सबके बाद भी में हार गया, जानते हो क्यों, क्यों कि तुम्हारा भाइ तुम्हारे साथ था और मेरा भाई मेरे खिलाफ था।.

अंदरुनी एकता बनाये रखो। क्योकि                                 —किसी भी पेड़ के कटने का किस्सा न होता, अगर कुल्हाड़ी के पीछे लकड़ी का हिस्सा न होता।



ज़िंदगी ऐसे जियो के अपने रब को पसंद
आजाओ क्योंकि…..

दुनिया वालो की पसंद तो पल भर मे
बदल जाती है..



ચાર રસ્તા પર “દોરી કવચ” વેચતા માણસને એક પક્ષી પૂછે છે…
આ શું છે?
વ્યાપારી કહે, આ “દોરી કવચ” છે, આને બાઈકની આગળ લગાવવાથી ગળા ના કપાય।..
પક્ષી એ તરત પૂછ્યું , ભ’ઈ અમારા માપના મળશે???
#SaveBirds#🐧🐦🐤



जगसे बेटी का हक लुंगी ,
जग को मेरा परिचय दूंगी,
खुली फ़िज़ामें सांसे लुंगी,
बेटेसे बड़ा फर्ज निभाऊंगी ।



किसी को क़ुरान में ईमान न मिला
किसी को गीता में ज्ञान ना मिला
किसी को ग्रन्थ साहिब में सतनाम ना मिला
उस बन्दे को आसमान में क्या रब मिलेगा
जिसको इंसान में इंसान ना मिला



‘समय’ न लगाओ तय करने में, आप को करना क्या है.
वरना ‘समय’ तय कर लेगा कि, आपका क्या करना है.. .
पैसा एक ही भाषा बोलता है,
अगर तुमने “आज” मुझे बचा लिया तो..
“कल” मै तुम्हे बचा लूंगा

“पैसा फिर कहता है, भले मैं उपर साथ नहीं जाऊंगा पर
जब तक मै नीचे हूँ
तुझे बहुत उपर लेके जाऊंगा..”

Truth of life👌👍



“दुनिया का सबसे अच्छा तोहफा “वक्त” है।
                क्योंकी,
जब आप किसीको अपना वक्त देतें हैँ,
तो आप उसे अपनी “जिंदगी” का वह पल देतें हैं,
जो कभी लौटकर नहीं आता…
          🍁 सुप्रभात 🍁
🙏🙏🙏🙏💐💐💐💐💐🌺🌺🌺🌺🍀🍀🍀🌿🌿



🍂🍃 सुप्रभातम्🍃🍂

रिश्ते और विश्वास दोनो ही मित्र हैं।
रिश्ते रखो या ना रखो पर विश्वास जरुर रखना,
जहां विश्वास होता है, वहां रिश्ते अपने आप पनप जाते हैं।



” लहु देकर तिरंगे की….बुलंदी को सवाँरा है,
.
फ़रिस्ते हो तुम वतन के….तुम्हे सज़दा हमारा है !!
.
पठानकोट हमले मे वीर गति को प्राप्त हुवे;
जावाज़ फौजी भाईयों को..भाव भीनी श्रध्दांजली ,
शत् शत् नमन….जय हिंद…..जय वतन



हमारी सभी अंगुलियों लंबाई में बराबर नहीं होती हैं,किन्तु जब वे मुड़ती हैं तो बराबर दिखती हैं..!!”
इसी प्रकार यदि हम किन्ही परिस्थितियों में थोड़ा सा झुक जातें है या तालमेल बिठा  लेते हैं तो ज़िन्दगी बहुत आसान व् आनंदित हो जाती है।
🙏 सुप्रभात 🙏🏻



💐जो सफर की
            शुरुआत करते हैं,
                            वे मंजिल भी पा लेते है.
बस,
एक बार चलने का
      हौसला रखना जरुरी है. क्योंकि,
   अच्छे इंसानों का तो
       रास्ते भी इन्तजार करते हैं…!
    🌿शुभ प्रभात🌿



🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
એક નમ્ર અપીલ……
” એ કાપ્યો છે” “લપેટ” નું પોસ્ટ મોર્ટમ કરીયે…

દરેક ઉતરાયણની જેમ આ ઉતરાયણ પણ કાપ્યો છે ની ચિચિયારીઓથી ભરાઈ જશે. આપણી અગાશી જયારે ઉત્સવ માનવતી હોય ત્યારે શું શું થતું હોય છે… ખબર છે?

આકાશમાં ઊડતી ગભરૂ અને ભોળી એક કબૂતરીની પાંખ કપાઈ જાય છે, એ મરણતોલ સ્થિતિમાં નીચે પટકાય છે, ત્યારે કોઈ કૂતરો, કોઈ બિલાડી કે કોઈ સમડીના ધ્યાને આવ્યા વગર રહેતું નથી. આપના પતંગના માંજા એ માત્ર એક પાંખને નહિ એક પરિવારને કાપી નાખ્યો હોય છે. “માં” ની અને દાણાની રાહ જોઈ બેસેલા બચ્ચાંઓને કોણ સાચવશે ?!? 😢😢😢 હાથમાં પાકો દોરો કે માંજો પકડાતા પહેલા એ હજારો લાખો નિર્દોષ અબોલ જીવોનો વિચાર જરૂર કરજો..🙏
પૂરપાટ વેગે બાઇક દોડી જતું હોય ને અચાનક ચિચ્યારીનો અવાજ સાંભળવા મળે. એક નહિ દેખાતી વસ્તુ ગળામાં આવશે અને માત્ર ૨૦ જ સેકન્ડમાં ગળું કપાઈ ગયેલું હશે. માથા વગરના શરીર સાથે બાઇક ક્યાંક પડ્યું હશે. ઘરડા મા-બાપની લાકડી તુટી જશે. એક કોડભરી નાની કન્યા વિધવા થશે. બે સંતાનો અનાથ થશે. હવે તમે સમજી શક્યા હશો “કાપ્યો છે કાપ્યો છે.”..😢😢😢

ખૂણેખાંચરે પડેલા ગુલાબી દોરીનો દડો ચાવતી ગાયના મોઢામાંથી લોહીની ધાર વહેવા લાગશે. અને ગાય અંતિમ શ્વાસ લેશે.🙏સમજી શકાય ” કાપ્યો છે કાપ્યો છે. 😢😢😢 ચાલો આ વખતે થોડા સૂચનોને ધ્યાને રાખી વીતેલી ઉતરાયણના કાપકૂપનું આ ઉતરાયણે પ્રાયશ્ચિત કરીયે. કોઈ ઘવાયેલા પંખીઓની સેવા કરીએ.🙏
જો સાચે જ જીવદયા કે અનુકંપા થતી હોય તો આટલી સાવચેતી તો અવશ્ય રાખી શકીયે. જેવી કે….

1. આ પોસ્ટને બને તેટલા ગ્રુપ અથવા વ્યક્તિ સુધી વહેલમાં વહેલી તકે મળે તેવી વ્યવસ્થા કરીયે અને જીવદયાના આ કાર્યની અનુમોદના કરીએ.
2. ઉતરાયણની તૈયારી શરૂ કરતા પહેલા પોતાના શહેર અથવા વિસ્તારનો બર્ડ હેલ્પ લાઈન નંબર મેળવી લઈએ.
3. ઉતરાયણ નિમિતે શક્ય હોય તો પોતાના હાથે જીવદયા કરીએ.
4. ઝાડ પાન કે કોઈ પણ વાયર ઉપર માંજો દેખાય તો એને એકઠો કરીએ જેનાથી પશુ કે પક્ષી તેમાં ફસાય નહિ.🙏👏🙏



पठानकोट विशेष:

जब वो युद्ध में घायल हो जाता है तो अपने साथी से बोलता है :

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी माता पूछे तो, जलता दीप बुझा देना!
इतने पर भी न समझे तो, दो आंसू तुम छलका देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी बहना पूछे तो, सूनी कलाई दिखला देना!
इतने पर भी न समझे तो, राखी तोड़ देखा देना !!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी पत्नी पूछे तो, मस्तक तुम झुका लेना!
इतने पर भी न समझे तो, मांग का सिन्दूर मिटा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरे पापा पूछे तो, हाथो को सहला देना!
इतने पर भी न समझे तो, लाठी तोड़ दिखा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा बेटा पूछे तो, सर उसका तुम सहला देना!
इतने पर भी ना समझे तो, सीने से उसको लगा लेना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा भाई पूछे तो, खाली राह दिखा देना!
इतने पर भी ना समझे तो, सैनिक धर्म बता देना!!”      

Dedicated to all soldiers….  

BECAUSE OF THESE GUARDIANS OF INDIA I FEEL PROUD TO BE AN #INDIAN …… 🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳  .  If U all R #INDIANSS THEN PLSS SHARE IT TO YOUR ALL CONTACTS



👗 कपड़े हो गए छोटे
🙈 लाज कहा से आए
🌾 रोटी हो गई ब्रैड
💪 ताकत कहा से आए
🌺 फूल हो गए प्लास्टिक के
😐 खुशबू कहा से आए
👩 चेहरा हो गया मेकअप का
👸 रूप कहाँ से आए
👨 शिक्षक हो गए टयुशन के
📚 विद्या कहाँ से आए
🍱 भोजन हो गए होटल के
✊ तंदरुस्ती कहाँ से आए
📺 प्रोग्राम हो गए केबल के
🙏 संस्कार कहाँ से आए
💵 आदमी हो गए पैसे के
🙉 दया कहाँ से आए
🏭 धंधे हो गए हायफाय
🎁 बरकत कहाँ से आए
👳 भक्ति करने वाले स्वार्थी हो गए
👤 भगवान कहाँ से आए
👫 रिश्तेदार  हो गये व्हाट्सऐप के
💃🏃 मिलने कहाँ से आए
😂😂😪😥😰😂😂
: मंदिर के बाहर लिखा हुआ एक खुबसुरत सच……

“अगर उपवास करके भगवान खुश होते,

तो इस दुनिया में बहुत दिनो तक खाली पेट
रहनेवाला भिखारी सबसे सुखी इन्सान होता..

उपवास अन का नही विचारों का करे….

इंसान खुद की नजर में सही होना चाहिए, दुनिया तो भगवान से भी दुखी है!

🍌🍎🍏🍊🌞🌿😄
आज का विचार:

चिड़िया जब जीवित रहती है
           तब वो चिंटी🐜 को खाती है

चिड़िया जब मर जाती है तब
           चींटिया उसको खा जाती है।

इसलिए इस बात का ध्यान रखो की समय और स्तिथि कभी भी बदल सकते है.

👍इसलिए कभी किसी का अपमान मत करो
👍कभी किसी को कम मत आंको।
👍तुम शक्तिशाली हो सकते हो पर समय तुमसे भी शक्तिशाली है।
👍एक पेड़ से लाखो माचिस की तीलिया बनाई जा सकती है
👍 पर एक माचिस की तिल्ली से लाखो पेड़ भी जल सकते है।

👍कोई चाहे कितना भी महान क्यों ना हो जाए, पर कुदरत कभी भी किसी को महान  बनने का मौका नहीं देती।

👉कंठ दिया कोयल को, तो रूप छीन लिया ।
👉रूप दिया मोर को, तो ईच्छा छीन ली ।
👉दी ईच्छा इन्सान को, तो संतोष छीन लिया ।
👉दिया संतोष संत को, तो संसार छीन लिया ।
👉दिया संसार चलाने देवी-देवताओं को, तो उनसे भी मोक्ष छीन लिया ।

☝मत करना कभी भी ग़ुरूर अपने आप पर ‘ऐ इंसान’
☝ भगवान ने तेरे और मेरे जैसे कितनो को मिट्टी से बना के, मिट्टी में मिला दिए ।
🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆
👉 इंसान दुनिया में तीन चीज़ो के लिए मेहनत करता है

1-मेरा नाम ऊँचा हो .
२ -मेरा लिबास अच्छा हो .
3-मेरा मकान खूबसूरत हो ..

लेकिन इंसान के मरते ही भगवान उसकी तीनों चीज़े
सबसे पहले बदल देता है

१- नाम = (स्वर्गीय )
२- लिबास = (कफन )
३-मकान = ( श्मशान )

जीवन की कड़वी सच्चाई जिसे हम समझना नहीं चाहते  👈
👌👌👌👌👌
ये चन्द पंक्तियाँ
जिसने भी लिखी है
खूब लिखी है

एक पथ्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है और भगवान बन जाता है ..
इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है फिर भी पथ्थर ही रहते है ..!!
👍 NICE LINE👌
एक औरत बेटे को जन्म देने के लिये अपनी सुन्दरता त्याग देती है…….
और
वही बेटा एक सुन्दर बीवी के लिए अपनी माँ को त्याग देता है
********[**********]*****
जीवन में हर जगह
हम “जीत” चाहते हैं…

सिर्फ फूलवाले की दूकान ऐसी है
जहाँ हम कहते हैं कि
“हार” चाहिए।

क्योंकि

हम भगवान से
“जीत” नहीं सकते।

➖♦➖♦➖♦➖♦➖

क्योंकि ये ज़िन्दगी जैसी भी है,
बस एक ही बार मिलती है।
ये SMS जरुर सबको भेजना ..ll 🔰R.💲



पठानकोट विशेष:

जब वो युद्ध में घायल हो जाता है तो अपने साथी से बोलता है :

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी माता पूछे तो, जलता दीप बुझा देना!
इतने पर भी न समझे तो, दो आंसू तुम छलका देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी बहना पूछे तो, सूनी कलाई दिखला देना!
इतने पर भी न समझे तो, राखी तोड़ देखा देना !!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी पत्नी पूछे तो, मस्तक तुम झुका लेना!
इतने पर भी न समझे तो, मांग का सिन्दूर मिटा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरे पापा पूछे तो, हाथो को सहला देना!
इतने पर भी न समझे तो, लाठी तोड़ दिखा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा बेटा पूछे तो, सर उसका तुम सहला देना!
इतने पर भी ना समझे तो, सीने से उसको लगा लेना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा भाई पूछे तो, खाली राह दिखा देना!
इतने पर भी ना समझे तो, सैनिक धर्म बता देना!!”

Dedicated To Indian Army🙏



ये एक फोजी की गाथा है:

जब वो युद्ध में घायल हो जाता है तो अपने साथी से
बोलता है :

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी माता पूछे तो,
जलता दीप बुझा देना!
इतने पर भी न समझे तो,
दो आंसू तुम छलका देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी बहना पूछे तो,
सूनी कलाई दिखला देना!
इतने पर भी न समझे तो,
राखी तोड़ देखा देना !!”

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरी पत्नी पूछे तो,
मस्तक तुम झुका लेना!
इतने पर भी न समझे तो,
मांग का सिन्दूर मिटा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरे पिता पूछे तो,
हाथो को सहला देना!
इतने पर भी न समझे तो,
लाठी तोड़ दिखा देना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा बेटा पूछे तो,
सर उसका तुम सहला देना!
इतने पर भी ना समझे तो,
सीने से उसको लगा लेना!!”

“साथी घर जाकर मत कहना,
संकेतो में बतला देना;
यदि हाल मेरा भाई पूछे तो,
खाली राह दिखा देना!
इतने पर भी ना समझे तो,
सैनिक धर्म बता देना!!”

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻
पठानकोट के शहीद
वीर जवानों को सम्रपित
देश के वीर लालो को मेरा
शत शत नमन👏🏻👏🏻👏🏻
🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻



5 पागल कुत्तों को मारने में मेरे मुल्क के 6 शेर शहीद हो गए ।
कैसे कह दूँ के पठानकोट हमला विफल हो गया।
प्लेन या हेलीकॉप्टर नष्ट हो जाते तो दुःख नहीं होता। फिर खरीद लाते।
वतन की आन पे जान लुटाने वाले जाबांज़ कहाँ से लाओगे।

देश की रक्षा करते हुऐ पठानकोट मे शहीद हुऐ फौजी भाईयो को हमारे ग्रुप की तरफ से शत शत नमन
“लहु देकर तिरंगे की …बुलंदी को सवाँरा है,,
फरिशते हो तुम वतन के .तुम्हे सजदा हमारा है”.।
🇮🇳🚩जयहिँद जय  भारत🚩🇮🇳
                                                      उन आँखों की दो बूंदों से समन्दर भी हारे होंगे…

जब मेहँदी वाले हाथो ने मंगलसूत्र उतारे होंगे..

                शहादत को नमन…
                       :|:|
                       🙏🏻🙏🏻
                       🌹🌹



जीवन शतरंज के खेल की तरह है और यह खेल आप ईश्वर के साथ खेल रहे है..!

आपकी हर चाल के बाद,
अगली चाल वो चलता है..!!

आपकी चाल आपकी “पसंद” कहलाती है..,
और..,
उसकी चाल “परिणाम” कहलाती है..!!!



छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर, जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर, तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त, मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर.



.
एक शर्मनाक
                 कड़वी सच्चाई..

नदी तालाब में नहाने में शर्म आती है,
और
स्विमिंग पूल में तैरने को फैशन कहते हैं,
.
गरीब को एक रुपया दान नहीं कर सकते,
और
वेटर को टिप देने में गर्व महसूस करते हैं.
.
माँ बाप को एक गिलास पानी भी नहीं दे सकते,
और
नेताओं को देखते ही वेटर बन जाते हैं.
.
बड़ों के आगे सिर ढकने में प्रॉब्लम है,
लेकिन
धूल से बचने के लिए ‘ममी’ बनने को भी तैयार हैं.
.
पंगत में बैठकर खाना दकियानूसी लगता है,
और
पार्टियों में खाने के लिए लाइन लगाना अच्छा लगता है.
.
बहन कुछ माँगे तो फिजूल खर्च लगता है,
और
गर्लफ्रेन्ड की डिमांड को अपना सौभाग्य समझते हैं.
.
गरीब की  सब्ज़ियाँ खरीदने मे इन्सल्ट होती है,
और
शॉपिंग मॉल में अपनी जेब कटवाना गर्व की बात है.
.
बाप के मरने पर सिर मुंडवाने में हिचकते हैं.
और
‘गजनी’ लुक के लिए हर महीने गंजे हो सकते हैं.
.
कोई पंडित अगर चोटी रखे तो उसे एन्टीना कहते हैं.
और
शाहरुख के ‘डॉन’ लुक के दीवाने बने फिरते हैं.
.
किसानों के द्वारा उगाया अनाज खाने लायक नहीं लगता,
और
उसी अनाज को पॉलिश कर के कम्पनियाँ बेचें,
तो
क्वालिटी नजर आने लगती है…॥

ये सब मात्र
            अपसंस्कृति ही नही,
वरन्
देश व समाज का
             दुर्भाग्य भी है ।
.

अगर सहमत हों
          तो आगे प्रेषित करें..॥
Post this on your family groups

Happy world family day

“परिवार” से बड़ा कोई
            “धन” नहीं!
            “पिता” से बड़ा कोई
            “सलाहकार” नहीं!
            “माँ” की छाव से बड़ी
             कोई “दुनिया” नहीं!
            “भाई” से अच्छा कोई 
            “भागीदार” नहीं!
            “बहन” से बड़ा कोई
            “शुभचिंतक” नहीं!
            “पत्नी” से बड़ा कोई
            “दोस्त” नहीं
                    इसलिए
            “परिवार” के बिना
            “जीवन” नहीं!!!
          👏👏👏👏👏

•”परिवार में”- कायदा नही परन्तु व्यवस्था होती है।
•”परिवार में”- सूचना नहीं परन्तु समझ होती है।
•”परिवार में”- कानून नहीं परन्तु अनुशासन होता है।
•”परिवार मे”- भय नहीं परन्तु भरोसा होता है।
• “परिवार मे”- शोषण नहीं परन्तु पोषण होता है।
•”परिवार मे”- आग्रह नही परन्तु आदर होता है।
•”परिवार मे”- सम्पर्क नही परन्तु सम्बन्ध होता है ।
•”परिवार मे”- अर्पण नही परन्तु समर्पण होता है।

🙏🙏🙏



जीवन में जो भी करो,
     पूरे समर्पण के साथ करो…।

    प्रेम करो तो मीरा की तरह….
    प्रतीक्षा करो तो शबरी की तरह…
    भक्ति करो तो हनुमान की तरह…
    शिष्य बनो तो अर्जुन के समान…
देश भक्त बनो तो महाराणा प्रताप की तरह…
    और
मित्र बनो तो स्वयं कृष्ण के समान…💐💐 शुभरात्री जय माता जी🙏🏻



“सफलता कभी भी
   “पक्की” नही होती, ओर
असफलता कभी भी
      “अंतिम” नही होती।
इसलिये अपनी कोशिश को 
तब तक जारी रखो…
       जब तक आपकी ,
“जीत” एक “इतिहास”
    ना बन जाये।
   
       👏👏👏



धीरे धीरे सब छोङकर चले जाते हैँ
दिसम्बर तो सिर्फ एक महिना हैँ



“जीत हासील करनी हो तो काबिलियत बढाओ,
शेर खुद अपनी ताकत से राजा कहलाता है,
जंगल में कभी चुनाव नही होते”।
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺



MUST READ👌👌👌👌

एक छोटा सा बच्चा अपने दोनों हाथों में एक एक एप्पल लेकर खड़ा था

उसके पापा ने मुस्कराते हुए कहा कि
“बेटा एक एप्पल मुझे दे दो”

इतना सुनते ही उस बच्चे ने एक एप्पल को दांतो से कुतर लिया.

उसके पापा कुछ बोल पाते उसके पहले ही उसने अपने दूसरे एप्पल को भी दांतों से कुतर लिया

अपने छोटे से बेटे की इस हरकत को देखकर बाप ठगा सा रह गया और उसके चेहरे पर मुस्कान गायब हो गई थी…
तभी उसके बेटे ने अपने नन्हे हाथ आगे की ओर बढाते हुए पापा को कहा….
“पापा ये लो.. ये वाला ज्यादा मीठा है.

शायद हम कभी कभी पूरी बात जाने बिना निष्कर्ष पर पहुंच जाते हैं..
किसी ने क्या खूब लिखा है:

नजर का आपरेशन
तो सम्भव है,
पर नजरिये का नही..!!! 👌💯

🍁🍁 फर्क सिर्फ सोच का
होता है…..
वरना , वही सीढ़ियां ऊपर भी जाती है ,और निचे भी आती है 🍁🍁

“जीत हासील करनी हो तो काबिलियत बढाओ,
शेर खुद अपनी ताकत से राजा कहलाता है,
जंगल में कभी चुनाव नही होते”।
:):):):):)



🎯 Success Key 🔑
〰〰〰〰〰〰〰〰
When Nails Grow Long,
We Cut Nails and Not Fingers,
Similarly When , Misunderstandings Grow Up,
Cut Your Ego,
Not Your Relationship
〰〰〰〰〰〰〰〰
Good Time🔱



यह ज़िन्दगी बस सिर्फ पल दो पल है;
जिसमें न तो आज और न ही कल है;
जी लो इस ज़िंदगी का हर पल इस तरह;
जैसे बस यही ज़िन्दगी का सबसे हसीं पल है।
शुभ दिन!



चाणक्य के 15 अमर वाक्य | शेयर करें | सीखें और सीखयें
|
1)दुनिया की सबसे बड़ी ताकत पुरुष का विवेक
और महिला की सुन्दरता है।
2)हर मित्रता के पीछे कोई स्वार्थ जरूर होता है, यह
कड़वा सच है।
3)अपने बच्चों को पहले पांच साल तक खूब प्यार करो।
छः साल से पंद्रह साल तक कठोर अनुशासन और संस्कार
दो।
सोलह साल से उनके साथ मित्रवत व्यवहार करो।
आपकी संतति ही आपकी सबसे अच्छी मित्र है।”
4)दूसरों की गलतियों से सीखो
अपने ही ऊपर प्रयोग करके सीखने को तुम्हारी आयु कम
पड़ेगी।
5)किसी भी व्यक्ति को बहुत ईमानदार नहीं होना
चाहिए।
सीधे वृक्ष और व्यक्ति पहले काटे जाते हैं।
6)अगर कोई सर्प जहरीला नहीं है
तब भी उसे जहरीला दिखना चाहिए वैसे दंश भले ही न
हो
पर दंश दे सकने की क्षमता का दूसरों को अहसास
करवाते रहना चाहिए।
7)कोई भी काम शुरू करने के पहले तीन सवाल अपने आपसे
पूछो…
मैं ऐसा क्यों करने जा रहा हूँ ?
इसका क्या परिणाम होगा ?
क्या मैं सफल रहूँगा?
8)भय को नजदीक न आने दो अगर यह नजदीक आये
इस पर हमला कर दो यानी भय से भागो मत
इसका सामना करो।
9)काम का निष्पादन करो, परिणाम से मत डरो।
10)सुगंध का प्रसार हवा के रुख का मोहताज़ होता है
पर अच्छाई सभी दिशाओं में फैलती है।”
11)ईश्वर चित्र में नहीं चरित्र में बसता है
अपनी आत्मा को मंदिर बनाओ।
12)व्यक्ति अपने आचरण से महान होता है
जन्म से नहीं।
13)ऐसे व्यक्ति जो आपके स्तर से ऊपर या नीचे के हैं
उन्हें दोस्त न बनाओ,
वह तुम्हारे कष्ट का कारण बनेगे।
समान स्तर के मित्र ही सुखदायक होते हैं।
14)अज्ञानी के लिए किताबें और
अंधे के लिए दर्पण एक समान उपयोगी है।
15)शिक्षा सबसे अच्छी मित्र है।
शिक्षित व्यक्ति सदैव सम्मान पाता है।
शिक्षा की शक्ति के आगे युवा शक्ति और सौंदर्य
दोनों ही कमजोर है
राजा भोज ने कवि कालीदास से दस सर्वश्रेष्ट सवाल किए
1- दुनिया में भगवान की सर्वश्रेष्ठ रचना क्या है?
उत्तर- ”मां”
2- सर्वश्रेष्ठ फूल कौन सा है?
उत्तर- “कपास का फूल”
3- सर्वश्र॓ष्ठ सुगंध कौनसी है
उत्तर- वर्षा से भीगी मिट्टी की सुगंध ।
4-सर्वश्र॓ष्ठ मिठास कौनसी
– “वाणी की”
5- सर्वश्रेष्ठ दूध-
“मां का”
6- सबसे से काला क्या है
“कलंक”
7- सबसे भारी क्या है
“पाप”
8- सबसे सस्ता क्या है
“सलाह”
9- सबसे महंगा क्या है
“सहयोग”
10-सबसे कडवा क्या है
ऊत्तर- “सत्य”.
वो डांट कर अपने बच्चो को अकेले मे रोती है,
.
वो माँ है, और माँ एसी ही
होती है ।
जितना बडा प्लाट होता है, उतना बडा बंगला नही होता !! जितना बडा बंगला होता है,उतना बडा दरवाजा नही होता !! जितना बडा दरवाजा होता है ,उतना बडा ताला नही होता !!
जितना बडा ताला होता है , उतनी बडी चाबी नही होती !! परन्तु चाबी पर पुरे बंगले का आधार होता है।
इसी तरह मानव के जीवन मे बंधन और मुक्ति का आधार मन की चाबी पर ही निर्भर होता है।
है मानव….तू सबकुछ कर पर किसी को परेशान मत कर,जो बात समझ न आऐ उस बात मे मत पड़ !
पैसे के अभाव मे जगत 1% दूखी है,समझ के अभाव मे जगत 99% दूखी है !!!

आज का श्रेष्ठ विचार:-
यदि आप धर्म करोगे तो भगवान से आपको माँगना पड़ेगा…,
लेकिन यदि आप कर्म करोगे तो भगवान को देना पड़ेगा..!
👏👏👏👏👏👏किरपा करके पढने के बाद अपने दोस्तों को जरुर भेजे



ऊँचा उठने के लिए पंखो की जरूरत तो पक्षीयो को पड़ती है.
इंसान तो जितना नीचे झुकता है,वो उतना ही ऊपर उठता जाता है



🙏🏼कोई भी व्यक्ति हमारा मित्र या शत्रु बनकर संसार में नही आता…,,

हमारा व्यवहार और शब्द ही लोगो को मित्र और शत्रु बनाते है..🙏🏼



एक राजा का दरबार लगा हुआ था,
क्योंकि सर्दी का दिन था
इसलिये राजा का दरवार
खुले मे लगा हुआ था.
पूरी आम सभा सुबह की धूप मे बैठी थी
..
महाराज के सिंहासन के सामने एक शाही मेज थी
और उसपर कुछ कीमती चीजें रखी थीं.
पंडित लोग, मंत्री और दीवान आदि सभी दरबार मे बैठे थे
और राजा के परिवार के सदस्य भी बैठे थे..
..
उसी समय एक व्यक्ति आया
और प्रवेश माँगा व प्रवेश मिल गया
तो उसने कहा “मेरे पास दो वस्तुएं हैं,
मै हर राज्य के राजा के पास जाता हूँ
और अपनी बात रखता हूँ
पर कोई परख नही पाता
सब हार जाते है और
मै विजेता बनकर घूम रहा हूँ”..
अब आपके नगर मे आया हूँ
राजा ने बुलाया और कहा
“क्या बात है”
तो उसने दोनो वस्तुएं उस
कीमती मेज पर रख दीं..
वे दोनों वस्तुएं बिल्कुल
समान आकार, समान रुप रंग,
समान प्रकाश सब कुछ नख-शिख
समान था..

..
राजा ने कहा ये दोनो वस्तुएं तो एक हैं.
तो उस व्यक्ति ने कहा
हाँ दिखाई तो एक सी ही देती है
लेकिन हैं भिन्न.
इनमें से एक है बहुत कीमती हीरा
और एक है काँच का टुकडा
लेकिन रूप रंग सब एक है.
कोइ आज तक परख नही पाया
क़ि कौन सा हीरा है
और कौन सा काँच का टुकड़ा..
.
..
कोइ परख कर बताये की ये हीरा है
और ये काँच..
अगर परख खरी निकली
तो मैं हार जाऊंगा
और यह कीमती हीरा मै आपके राज्य की तिजोरी मे जमा करवा दूंगा.
पर शर्त यह है क़ि यदि कोइ
नहीं पहचान पाया
तो इस हीरे की जो कीमत है
उतनी धनराशि आपको मुझे देनी होगी..
इसी प्रकार से मैं कइ
राज्यों से जीतता आया हूँ..
..
राजा ने कहा मै तो नही परख सकूगा..
दीवान बोले हम भी हिम्मत नही कर सकते क्योंकि दोनो बिल्कुल समान है..
सब हारे कोई हिम्मत नही जुटा पा रहा था..
..
हारने पर पैसे देने पडेगे
इसका कोई सवाल नही था,
क्योंकि राजा के पास बहुत धन था,
पर राजा की प्रतिष्ठा गिर जायेगी इसका सबको भय था..
कोई व्यक्ति पहचान नही पाया..
..
आखिरकार पीछे थोडी हलचल हुई
एक अंधा आदमी हाथ मे लाठी लेकर उठा..
उसने कहा मुझे महाराज के पास ले चलो मैने सब बाते सुनी है
और यह भी सुना है कि कोई परख नही पा रहा है एक अवसर मुझे भी दो..
..
एक आदमी के सहारे वह राजा के पास पहुंचा..
उसने राजा से प्रार्थना की
मै तो जनम से अंधा हू
फिर भी मुझे एक अवसर दिया जाये
जिससे मै भी एक बार अपनी बुद्धि को परखूँ और हो सकता है कि सफल भी हो जाऊं
और यदि सफल न भी हुआ तो वैसे भी आप तो हारे ही है..
राजा को लगा कि इसे अवसर देने मे क्या हर्ज है
राजा ने कहा क़ि ठीक है..
तो तब उस अंधे आदमी को दोनो चीजे छुआ दी गयी और पूछा गया इसमे कौन सा हीरा है और कौन सा काँच….??
..
यही तुम्हें परखना है..
..
कथा कहती है कि उस आदमी ने एक क्षण मे कह दिया कि यह हीरा है और यह काँच..
..
जो आदमी इतने राज्यो को जीतकर आया था वह नतमस्तक हो गया..
और बोला “सही है आपने पहचान लिया..
धन्य हो आप…
.

अपने वचन के मुताबिक यह हीरा मै आपके राज्य की तिजोरी मे दे रहा हूँ ”
..
सब बहुत खुश हो गये
और जो आदमी आया था
वह भी बहुत प्रसन्न हुआ
कि कम से कम कोई
तो मिला परखने वाला..
उस आदमी, राजा और अन्य
सभी लोगो ने उस अंधे व्यक्ति से एक ही जिज्ञासा जताई
कि तुमने यह कैसे पहचाना
कि यह हीरा है और वह काँच..
..
उस अंधे ने कहा की
सीधी सी बात है मालिक
धूप मे हम सब बैठे है..
मैने दोनो को छुआ
..
जो ठंडा रहा वह हीरा .. .
जो गरम हो गया वह काँच…
.
.
.
..
जीवन मे भी देखना
जो बात बात मे गरम हो जाये,
उलझ जाये वह काँच
और
जो विपरीत परिस्थिति मे भी ठंडा रहे वही हीरा है..!!



परेशानियों से भागना आसान होता है, हर मुश्किल ज़िन्दगी में एक इम्तिहान होता है, हिम्मत हारने वाले को कुछ नहीं मिलता ज़िंदगी में और मुश्किलों से लड़ने वाले के क़दमों में ही तो जहाँ होता है..



: # लोग_कहते है अगर # हाथों की
लकीरें # अधूरी हो तो……..
# किस्मत_अच्छी नहीं
होती………लेकिन हम कहते है की
# सर_पर_हाथ हो अगर…….
” # माँ_बाप ” का तो
# लकीरों की # ज़रूरत
नहीं होती —



💞हमेशा छोटी छोटी गलतियों से बचने की कोशिश किया करो , :)😘

क्योंकि इन्सान पहाड़ो से नहीं पत्थरों से ठोकर खाता है💞
😋😘💐



रामायण मे दो ऐसे व्यक्ती थे…
एक विभीषण और एक कैकेयी…
विभीषण रावण के राज मे रहता था
फिर भी नही बिगडा…
कैकेयी राम के राज मे रहती
थी
फिर भी नही सुधरी..!!
तात्पर्य…
सुधरना एवं बिगडना केवल मनुष्य के सोच और स्वभाव पर निर्भर
होता है
माहौल पर नहीं..

: रावण सीता को समझा समझा कर हार गया था पर
सीता ने रावण की तरफ एक
बार देखा तक नहीं..!
तब मंदोदरी ने उपाय बताया कि तुम राम बन के सीता के
पास जाओ वो तुम्हे जरूर देखेगी..!
रावण ने कहा – मैं ऐसा कई बार कर चुका हू..!
मंदोदरी – तब क्या सीता ने आपकी ओर देखा..?
.रावण – मैं खुद सीता को नहीं देख सका..!
क्योंकि मैं जब- जब राम बनता हूँ,
मुझे परायी नारी अपनी माता और
अपनी पुत्री सी दिखती है..!
.
अपने अंदर राम को ढूंढे,
और उनके चरित्र पर चलिए..!
आपसे भूलकर भी भूल नहीं होगी..!
.
॥ जय श्री राम ॥               : मंदिर के बाहर लिखा हुआ एक खुबसुरत सच……

“अगर उपवास करके भगवान खुश होते,

तो इस दुनिया में बहुत दिनो तक खाली पेट
रहनेवाला भिखारी सबसे सुखी इन्सान होता..

उपवास अन का नही विचारों का करे….

इंसान खुद की नजर में सही होना चाहिए, दुनिया तो भगवान से भी दुखी है!

🍌🍎🍏🍊🌞🌿😄
आज का विचार:

चिड़िया जब जीवित रहती है
           तब वो चिंटी🐜 को खाती है

चिड़िया जब मर जाती है तब
           चींटिया उसको खा जाती है।

इसलिए इस बात का ध्यान रखो की समय और स्तिथि कभी भी बदल सकते है.

👍इसलिए कभी किसी का अपमान मत करो
👍कभी किसी को कम मत आंको।
👍तुम शक्तिशाली हो सकते हो पर समय तुमसे भी शक्तिशाली है।
👍एक पेड़ से लाखो माचिस की तीलिया बनाई जा सकती है
👍 पर एक माचिस की तिल्ली से लाखो पेड़ भी जल सकते है।

👍कोई चाहे कितना भी महान क्यों ना हो जाए, पर कुदरत कभी भी किसी को महान  बनने का मौका नहीं देती।

👉कंठ दिया कोयल को, तो रूप छीन लिया ।
👉रूप दिया मोर को, तो ईच्छा छीन ली ।
👉दी ईच्छा इन्सान को, तो संतोष छीन लिया ।
👉दिया संतोष संत को, तो संसार छीन लिया ।
👉दिया संसार चलाने देवी-देवताओं को, तो उनसे भी मोक्ष छीन लिया ।

☝मत करना कभी भी ग़ुरूर अपने आप पर ‘ऐ इंसान’
☝ भगवान ने तेरे और मेरे जैसे कितनो को मिट्टी से बना के, मिट्टी में मिला दिए ।
🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆
👉 इंसान दुनिया में तीन चीज़ो के लिए मेहनत करता है

1-मेरा नाम ऊँचा हो .
२ -मेरा लिबास अच्छा हो .
3-मेरा मकान खूबसूरत हो ..

लेकिन इंसान के मरते ही भगवान उसकी तीनों चीज़े
सबसे पहले बदल देता है

१- नाम = (स्वर्गीय )
२- लिबास = (कफन )
३-मकान = ( श्मशान )

जीवन की कड़वी सच्चाई जिसे हम समझना नहीं चाहते  👈
👌👌👌👌👌
ये चन्द पंक्तियाँ
जिसने भी लिखी है
खूब लिखी है

एक पथ्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है और भगवान बन जाता है ..
इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है फिर भी पथ्थर ही रहते है ..!!
👍 NICE LINE👌
एक औरत बेटे को जन्म देने के लिये अपनी सुन्दरता त्याग देती है…….
और
वही बेटा एक सुन्दर बीवी के लिए अपनी माँ को त्याग देता है
********[**********]*****
जीवन में हर जगह
हम “जीत” चाहते हैं…

सिर्फ फूलवाले की दूकान ऐसी है
जहाँ हम कहते हैं कि
“हार” चाहिए।

क्योंकि

हम भगवान से
“जीत” नहीं सकते।

➖♦➖♦➖♦➖♦➖♦

धीमें से पढ़े बहुत ही
अर्थपूर्ण है यह मेसेज…

हम और हमारे ईश्वर,
दोनों एक जैसे हैं।

जो रोज़ भूल जाते हैं…

वो हमारी गलतियों को,
हम उसकी मेहरबानियों को।

➖♦➖♦➖♦➖♦➖♦

🔷 एक सुविचार 🔷

वक़्त का पता नहीं चलता अपनों के साथ…..

पर अपनों का पता चलता है,
वक़्त के साथ…

वक़्त नहीं बदलता अपनों के साथ,

पर अपने ज़रूर बदल जाते हैं वक़्त के साथ…!!!
➖♦➖♦➖♦➖♦➖♦

💯%✔

ज़िन्दगी पल-पल ढलती है,

जैसे रेत मुट्ठी से फिसलती है… Ni

शिकवे कितने भी हो हर पल,
फिर भी हँसते रहना…

क्योंकि ये ज़िन्दगी जैसी भी है,
बस एक ही बार मिलती है।
ये SMS जरुर सबको भेजना .. बहूत ही सुंदर ( कृपया एक-एक शब्द पढें )
🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀🌀

कोई सोना चढाए , कोई चाँदी चढाए ;
कोई हीरा चढाए , कोई मोती चढाए ;

चढाऊँ क्या तुझे भगवन ; कि ये निर्धन का डेरा है ;

अगर मैं फूल चढाता हूँ , तो वो भँवरे का जूठा है ;
अगर मैं फल चढाता हूँ , तो वो पक्षी का जूठा है ;
अगर मैं जल चढाता हूँ , तो वो मछली का जूठा है ;
अगर मैं दूध चढाता हूँ , तो वो बछडे का जूठा है ;

चढाऊँ क्या तुझे भगवन ; कि ये निर्धन का डेरा है ;

अगर मैं सोना चढ़ाता हूँ , तो वो माटी का जूठा है ;
अगर मैं हीरा चढ़ाता हूँ , तो वो कोयले का जूठा है ;
अगर मैं मोती चढाता हूँ , तो वो सीपो का जूठा है ;
अगर मैं चंदन चढाता हूँ , तो वो सर्पो का जूठा है ;

चढाऊँ क्या तुझे भगवन, कि ये निर्धन का डेरा है ;

अगर मैं तन चढाता हूँ , तो वो पत्नी का जूठा है ;
अगर मैं मन चढाता हूँ , तो वो ममता का जूठा है ;
अगर मैं धन चढाता हूँ , तो वो पापो का जूठा है ;
अगर मैं धर्म चढाता हूँ , तो वो कर्मों का जूठा है ;

चढाऊँ क्या तुझे भगवन , कि ये निर्धन का डेरा है ;

तुझे परमात्मा जानू , तू ही तो है – मेरा दर्पण ;
तुझे मैं आत्मा जानू , करूँ मैं आत्मा end to 5 people and see your good time start fromjj
Next  minute                        
कभी कभी अच्छी चीज़ भी आगे फारवड करनी चाहिये । अच्छा समय तो अपने समय पर ही आयेगाp



God says=
💠 तू करता वो है जिसे तू चाहता है 💠
🔶पर होता वो है जो मै चाहता हु🔶
➕तू वो कर जो मै चाहता हू ➕
🔮फ़िर वो होगा जो तू चाहता है🔮



😎“वो  दौलत भी कया मिलेगी   बादशाहो के खजाने मे ,

जो मैने पाई है ..,

माँ-बाप   के पाँव  दबाने  मैं”॥



एक फ़क़ीर शमशान में दो चिताओ की राख को बड़े ध्यान से देख रहा था।
किसी ने पूछा कि बाबा एसे क्यू देख रहे हो राख को ?/
फ़क़ीर बोला कि ये एक अमीर की लाश की राख है
जिसने ज़िंदगी भर काजू बादाम स्वर्ण भस्म खाये
और ये एक ग़रीब की लाश है
जिसे दो वक़्त की रोटी भी बडी मुश्किल से मयस्सर होती थी ,
मगर इन दोनों की राख एक सी ही है
फिर किस चीज़ पर आदमी को घमंड है…!! ??



卐बहुत ही सुन्दर वर्णन है卐

👌मस्तक को थोड़ा झुकाकर देखिए
….अभिमान मर जाएगा
👌आँखें को थोड़ा भिगा कर देखिए
…..पत्थर दिल पिघल जाएगा
👌दांतों को आराम देकर देखिए
………स्वास्थ्य सुधर जाएगा
👌जिव्हा पर विराम लगा कर देखिए
…..क्लेश का कारवाँ गुज़र जाएगा
👌इच्छाओं को थोड़ा घटाकर देखिए
……खुशियों का संसार नज़र आएगा
👌पूरी जिंदगी हम इसी बात में गुजार देते हैं कि “चार लोग क्या कहेंगे”,
और अंत में चार लोग बस यही कहते हैं कि “राम नाम सत्य है”…



Explore Motivational sms Quotes

लोग चाहते हैं कि
आप बेहतर करे,

लेकिन
ये भी सत्य हैं कि

वो कभी नही चाहते कि
आप
उनसे बेहतर करें…😇😎
.
.
Good night…🔫🔫🔫



👉 इतनी “ऊँचाई’ न देना प्रभु कि,
धरती “पराई” लगने लगे.!
👉 इनती “खुशियाँ” भी न देना कि,
“दुःख” पर किसी के हंसी आने लगे.!!
👉 नहीं चाहिए ऐसी “शक्ति” जिसका,
“निर्बल” पर प्रयोग करूँ.!!
👉 नहीं चाहिए ऐसा “भाव” कि,
किसी को देख “जल-जल” मरूँ.!!
👉 ऐसा “ज्ञान” मुझे न देना,
“अभिमान” जिसका होने लगे !!
👉 ऐसी “चतुराई” भी न देना जो,
लोगों को “छलने” लगे!!
🌿🌺🌿🙏🙏🌹🌹



Very good message to all married couples…………

एक पत्नी ने अपने पति से आग्रह किया कि वह उसकी छह कमियाँ बताए जिन्हें सुधारने से वह बेहतर पत्नी बन जाए.

पति यह सुनकर हैरान रह गया और असमंजस की स्थिति में पड़ गया.

उसने सोचा कि मैं बड़ी आसानी से उसे ६ ऐसी बातों की सूची थमा सकता हूँ , जिनमें सुधार की जरूरत थी।

और ईश्वर जानता है कि वह ऐसी ६० बातों की सूची थमा सकती थी, जिसमें मुझे सुधार की जरूरत थी.

परंतु पति ने ऐसा नहीं किया और कहा –
‘मुझे इस बारे में सोचने का समय दो ,
मैं तुम्हें सुबह इसका जबाब दे दूँगा.’

पति अगली सुबह जल्दी ऑफिस गया और फूल वाले को फोन करके उसने अपनी पत्नी के लिए छह गुलाबों का तोहफा भिजवाने के लिए कहा जिसके साथ यह चिट्ठी लगी हो,
“मुझे तुम्हारी छह कमियाँ नहीं मालूम, जिनमें सुधार की जरूरत है.
तुम जैसी भी हो मुझे बहुत अच्छी लगती हो.”

उस शाम पति जब आफिस से लौटा तो देखा कि उसकी पत्नी दरवाज़े पर खड़ी उसका इंतज़ार कर रही थी,

उसकी आंखौं में आँसू भरे हुए थे,यह कहने की जरूरत नहीं कि उनके जीवन की मिठास कुछ और बढ़ गयी थी।

पति इस बात पर बहुत खुश था कि पत्नी के आग्रह के बावजूद उसने उसकी छह कमियों की सूची नहीं दी थी.

इसलिए यथासंभव जीवन में सराहना करने में कंजूसी न करें और आलोचना से बचकर रहने में ही समझदारी है।

ज़िन्दगी का ये हुनर भी,
आज़माना चाहिए,
जंग अगर अपनों से हो,
तो हार जाना चाहिए..

Happy Married Life …



पत्नी के दिल में भी झाककर देखों
खोई हुई गर्ल फ्रेंड मिल जाएगी
.
कभी बेटे से दोस्ती करके देखों
जवानी फिर से दस्तक दे जाएगी
.
सबसे पहला दोस्त याद करके देखों
माँ की याद आ जाएगी
.
बुढे बाप से दो बाते कर के देखो
एक सुलझी दोस्ती घर में ही मिल जाएगी
.
क्युं दोस्तों में रिश्तें ढूंढते हो
रिश्तों में दोस्त ढूंढो, जिंदगी बन जाएगी👍💝👍



❤ जब मम्मी डाँट रहीं थी तो कोई चुपके से
हँसा रहा था,

वो थे पापा. . .

❤ जब मैं सो रहा था
तब कोई चुपके से
सिर पर हाथ
फिरा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ जब मैं सुबह उठा
तो कोई बहुत
थक कर भी
काम पर जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ खुद कड़ी धूप में
रह कर कोई
मुझे ए.सी. में
सुला रहा था

वो थे पापा. . .

❤ सपने तो मेरे थे
पर उन्हें पूरा करने का
रास्ता कोई और
बताऐ जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ मैं तो सिर्फ अपनी
खुशियों में हँसता हूँ,
पर मेरी हँसी
देख कर कोई
अपने गम भुलाऐ
जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ फल खाने की
ज्यादा जरूरत तो उन्हें थी,
पर कोई मुझे
सेब खिलाए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ खुश तो मुझे होना चाहिए
कि वो मुझे मिले ,
पर मेरे जन्म लेने की
खुशी कोई और
मनाए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ ये दुनिया पैसों से
चलती है पर कोई
सिर्फ मेरे लिए पैसे
कमाए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ घर में सब अपना प्यार
दिखाते हैं पर कोई
बिना दिखाऐ भी
इतना प्यार किए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ पेड़ तो अपना फल
खा नही सकते इसलिए
हमें देते हैं…
पर कोई अपना पेट
खाली रखकर भी
मेरा पेट भरे जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ मैं तो नौकरी के लिए
घर से बाहर जाने पर
दुखी था पर
मुझसे भी अधिक
आंसू कोई और
बहाए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

❤ मैं अपने “बेटा ”
शब्द को सार्थक बना सका
या नही.. पता नहीं…
पर कोई बिना स्वार्थ के अपने “पिता” शब्द को सार्थक बनाए जा रहा था ,

वो थे पापा. . .

Share  जरूर करना ताकि और लोग भी पढ सके
💌💌💌💌💌💌💌💌💌

इस संदेश को 3 ग्रुपों में  भेजकर देखें | सारे अक्षर खुल जाएंगे और आप पाएंगे कि आप का नाम लिखा है 

यह कोई मजाक नहीं बल्कि इसका जादू आपको अचम्भित कर देगा…..



👉मैं पैसा हूँ 👈

मुझे आप मरने के बाद ऊपर नहीं ले जा सकते

मगर जीते जी मैं आपको
बहुत ऊपर ले जा सकता हूँ

🙏💯👆



ना घुमने के लिये कार चाहिए ,

ना गले के लिए हार चाहिए ,

भगवद् गीता मे भगवान श्री कृष्णा ने बहुत
बड़ी बात कही है , !!

जीवन के उद्धार के लिए केवल मित्र , प्रेम और परिवार चाहिए…..
G⭕⭕D 〽⭕➰N❗NG



Father and son, went to a temple, suddenly son shouted after seeing the pillars of Lions at the entrance of the temple
“Run Dad, or those Lions will eat us ”
Dad consoled him saying “they are just statues and wont harm us”
Son replied ” if those lion statues wont harm us then how could statues of God give us blessings”
The father wrote in his diary…
“I am still speechless on my childs answer and have started searching for God in Humans instead of statues. .
I didn’t find God but I found humanity. …. 😊



‬👉😟मुझे ना💂सरपे ताज👑चाहिये👉🌏ना दुनिया पे राज चाहिये👉साल 2⃣0⃣1⃣6⃣ मै बस इतनी हि मांग है 👉🙏ईश्वर से कोई गरीब भुका नही  सोना चाहिए.🙏🏻🙏🏻Ⓜ👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻Ⓜ

Jay sai nath



नींद तो अब भी बहुत आती है मगर…




समझा-बुझा के मुझे उठा देती हैं जिम्मेदारियां..



🙏
जीवन में जो भी करो,
पूरे समर्पण के साथ करो…।

प्रेम करो तो मीरा की तरह….
प्रतीक्षा करो तो शबरी की तरह…
भक्ति करो तो हनुमान की तरह…
शिष्य बनो तो अर्जुन के समान…
और
मित्र बनो तो स्वयं कृष्ण के समान…                                                                                                                                                                                                                                                       शुभ मंगलमय सुप्रभात..
🙏🙏



जीवन में ज़ख्म बड़े नहीं होते हैं;
उनको भरने वाले बड़े होते हैं;
रिश्ते बड़े नहीं होते हैं;
लेकिन रिश्तों को निभाने वाले बड़े होते हैं।



नींद तो
बचपन में आती थी…..
.
.
.
.
.
.
अब तो
मोबाइल को
रेस्ट देने के लिए
सो जाते हैं….
😜😜😜😜😁😁😂



ऑफिस से निकल कर शर्माजी ने स्कूटर स्टार्ट किया ही था कि उन्हें याद आया, पत्नी ने कहा था,१ दर्ज़न केले लेते आना। तभी उन्हें सड़क किनारे बड़े और ताज़ा केले बेचते हुए एक बीमार सी दिखने वाली बुढ़िया दिख गयी। वैसे तो वह फल हमेशा “राम आसरे फ्रूट भण्डार” से ही लेते थे, पर आज उन्हें लगा कि क्यों न बुढ़िया से ही खरीद लूँ ? उन्होंने बुढ़िया से पूछा, “माई, केले कैसे दिए” बुढ़िया बोली, बाबूजी बीस रूपये दर्जन, शर्माजी बोले, माई १५ रूपये दूंगा। बुढ़िया ने कहा, अट्ठारह रूपये दे देना, दो पैसे मै भी कमा लूंगी। शर्मा जी बोले, १५ रूपये लेने हैं तो बोल, बुझे चेहरे से बुढ़िया ने,”न” मे गर्दन हिला दी। शर्माजी बिना कुछ कहे चल पड़े और राम आसरे फ्रूट भण्डार पर आकर केले का भाव पूछा तो वह बोला २४ रूपये दर्जन हैं बाबूजी, कितने दर्जन दूँ ? शर्माजी बोले, ५ साल से फल तुमसे ही ले रहा हूँ, ठीक भाव लगाओ। तो उसने सामने लगे बोर्ड की ओर इशारा कर दिया। बोर्ड पर लिखा था- “मोल भाव करने वाले माफ़ करें” शर्माजी को उसका यह व्यवहार बहुत बुरा लगा, उन्होंने कुछ सोचकर स्कूटर को वापस ऑफिस की ओर मोड़ दिया। सोचते सोचते वह बुढ़िया के पास पहुँच गए। बुढ़िया ने उन्हें पहचान लिया और बोली, “बाबूजी केले दे दूँ, पर भाव १८ रूपये से कम नही लगाउंगी। शर्माजी ने मुस्कराकर कहा, माई एक नही दो दर्जन दे दो और भाव की चिंता मत करो। बुढ़िया का चेहरा ख़ुशी से दमकने लगा। केले देते हुए बोली। बाबूजी मेरे पास थैली नही है । फिर बोली, एक टाइम था जब मेरा आदमी जिन्दा था तो मेरी भी छोटी सी दुकान थी। सब्ज़ी, फल सब बिकता था उस पर। आदमी की बीमारी मे दुकान चली गयी, आदमी भी नही रहा। अब खाने के भी लाले पड़े हैं। किसी तरह पेट पाल रही हूँ। कोई औलाद भी नही है जिसकी ओर मदद के लिए देखूं। इतना कहते कहते बुढ़िया रुआंसी हो गयी, और उसकी आंखों मे आंसू आ गए । शर्माजी ने ५० रूपये का नोट बुढ़िया को दिया तो वो बोली “बाबूजी मेरे पास छुट्टे नही हैं। शर्माजी बोले “माई चिंता मत करो, रख लो, अब मै तुमसे ही फल खरीदूंगा, और कल मै तुम्हें ५०० रूपये दूंगा। धीरे धीरे चुका देना और परसों से बेचने के लिए मंडी से दूसरे फल भी ले आना। बुढ़िया कुछ कह पाती उसके पहले ही शर्माजी घर की ओर रवाना हो गए। घर पहुंचकर उन्होंने पत्नी से कहा, न जाने क्यों हम हमेशा मुश्किल से पेट पालने वाले, थड़ी लगा कर सामान बेचने वालों से मोल भाव करते हैं किन्तु बड़ी दुकानों पर मुंह मांगे पैसे दे आते हैं। शायद हमारी मानसिकता ही बिगड़ गयी है। गुणवत्ता के स्थान पर हम चकाचौंध पर अधिक ध्यान देने लगे हैं। अगले दिन शर्माजी ने बुढ़िया को ५०० रूपये देते हुए कहा, “माई लौटाने की चिंता मत करना। जो फल खरीदूंगा, उनकी कीमत से ही चुक जाएंगे। जब शर्माजी ने ऑफिस मे ये किस्सा बताया तो सबने बुढ़िया से ही फल खरीदना प्रारम्भ कर दिया। तीन महीने बाद ऑफिस के लोगों ने स्टाफ क्लब की ओर से बुढ़िया को एक हाथ ठेला भेंट कर दिया। बुढ़िया अब बहुत खुश है। उचित खान पान के कारण उसका स्वास्थ्य भी पहले से बहुत अच्छा है । हर दिन शर्माजी और ऑफिस के दूसरे लोगों को दुआ देती नही थकती। शर्माजी के मन में भी अपनी बदली सोच और एक असहाय निर्बल महिला की सहायता करने की संतुष्टि का भाव रहता है..! जीवन मे किसी बेसहारा की मदद करके देखो यारों, अपनी पूरी जिंदगी मे किये गए सभी कार्यों से ज्यादा संतोष मिलेगा…!! यदि लेख अच्छा लगा हो तो अपने मित्रो को भी प्रेषित करें



🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

बंद कर दिया सांपों को सपेरे ने यह कहकर,

अब इंसान ही इंसान को डसने के काम आएगा।

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

आत्महत्या कर ली गिरगिट ने सुसाइड नोट छोडकर,

अब इंसान से ज्यादा मैं रंग नहीं बदल सकता!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

गिद्ध भी कहीं चले गए, लगता है उन्होंने देख लिया,

कि इंसान हमसे अच्छा नोंचता है!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

कुत्ते कोमा में चले गए, ये देखकर,

क्या मस्त तलवे चाटता है इंसान!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

कोई टोपी, तो कोई अपनी पगड़ी बेच देता है,

मिले अगर भाव अच्छा, जज भी कुर्सी बेच देता है!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

जला दी जाती है ससुराल में अक्सर वही बेटी,

जिसकी खातिर बाप किडनी बेच देता है!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

ये कलयुग है, कोई भी चीज़ नामुमकिन नहीं इसमें,

कली, फल, फूल, पेड़, पौधे सब माली बेच देता है!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

किसी ने प्यार में दिल हारा, तो क्यूँ हैरत है लोगों को,

युद्धिष्ठिर तो जुए में अपनी पत्नी बेच देता है!

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃

धन से बेशक गरीब रहो, पर दिल से रहना धनवान,

अक्सर झोपड़ी पे लिखा होता है: “सुस्वागतम”

और महल वाले लिखते हैं:
“कुत्तों सॆ सावधान”

🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃🔃ॐ ॐ ॐ



“स्टेच्यू स्टेच्यू”…खेलते-खेलते…
पता ही नहीं चला…
कि…
कब लोग पत्थर के हो गये…!
सीख जाओ वक्त पर किसी की
कदर करना…
शायद सैल्फी इस बात का प्रमाण है के हम ज़िंदगी में
इतने अकेले रह गए है
कि हमारे आस पास हमारी फोटो खींचने वाले यार
दोस्त भी नहीं बचे”…….😇



जिंदगी बहुत कुछ सिखाती है;कभी हंसती है तो कभी रुलाती है;पर जो हर हाल में खुश रहते हैं;जिंदगी उनके आगे सर झुकाती है



Lines that are so touching I couldn’t help sharing

“नीचे गिरे सूखे पत्तों पर अदब से ही चलना ज़रा !

कभी कड़ी धूप में तुमने इनसे ही पनाह माँगी थी।”

(These lines encourage to respect parents in their old age)



मैं अपनी ज़िन्दगी में सभी को “अहमियत देता हूँ।” क्योकि जो अच्छे होंगे वे साथ देंगे और जो बुरे होंगे वे सबक देंगे



🙏 દુનિયાના ૮ સુંદર વાક્યો 🙏

⚡શેક્સપીયર:
કોઈ દિવસ કોઈની લાગણીઓ સાથે રમશો નહિ કારણ કે કદાચ ત્યારે તમે એ રમતમાં જીતી જશો પણ એ વ્યક્તિને કાયમ માટે તમારા જીવન માંથી ખોઈ બેસશો.

⚡નેપોલિયન:
આ દુનિયા એ ગણું સહન કર્યું છે, નહિ કે ખરાબ લોકો ના તોફાન થી પણ સારા લોકો ના મૌન ના કારણે સહન કરવું પડ્યું છે.

⚡આઈનસ્ટાઇન:
હું મારા જીવનમાં સદાય એ લોકો નો આભારી છું જેમને મને દરેક વાતમાં ના પડી કારણ કે એટલા માટે જ હું જીવનમાં આટલું બધું કરી શક્યો.

⚡અબ્રાહમ લિંકન:
જો મિત્રતા તમારી કમજોરી છે તો તમે દુનિયાના સૌથી શક્તીશાળી વ્યક્તિ છો.

⚡શેક્સપીયર:
હસતા ચહેરા નો મતલબ એ નથી કે એનામાં દુખ નથી પણ એનો મતલબ એ છે કે એને દુખ સાથે સારી રીતે તાલમેલ કરતા આવડે છે.

⚡વિલિયમ આર્થર:
તક ઉગતા સૂર્ય જેવી છે જો તમે લાંબો સમય એની રાહ જોઈ રહ્યા તો જતી જ રહેવાની છે.

⚡હિટલર:
જયારે તમે ઉજાસ માં હોવ ત્યારે બધા જ તમરી સાથે રહેશે પણ જેવા તમે અંધારામાં ગયા કે તરત તમારો કાયમી સાથી પડછાયો પણ તમારો સાથ છોડી દેશે.

⚡શેક્સપીયર:
સિક્કો હમેશા અવાજ કરે છે પણ ચલણી નોટ જરાય અવાજ નથી કરતી તો જયારે તમારું મૂલ્ય વધે ત્યારે હમેશા શાંત રહો.😕
@@@ms@@@



જે માણસાઈ થી મઢેલી હોય છે,

તે ઝુંપડી પણ હવેલી જેવી જ હોય છે…



सुन्दर लाइन;

मेरी गलतियां मुझसे कहो

दूसरो से नहीं

कियोंकि सुधार ना मुझे है उनको नहीं😊☺



👌हमेशा छोटी छोटी गलतियों से बचने की कोशिश किया करो , क्योंकि इन्सान पहाड़ो से नहीं पत्थरों से ठोकर खाता है ..



रिश्ते काँच की तरह होते है, टूटे जाए तो चुभते है. इन्हे संभालकर हथेली पर सजना क्योकि इन्हे टूटने मे एक पल और बनाने मे बरसो लग जाते है..



करते है मोल भाव भगवान
की मूर्ति खरीदते वक़्त ,

और फिर उसी मूर्ति से घर में
करोडो मांगते है… !!!

ये नादानी भी,
सच मे बेमिसाल है…!

अंधेरा दिल मे है,
और दिये मन्दिरों मे जलाते हैं.!

👏जय माताजी👏
  🌞Good morning🌞



Kisi Ne Poochha,”Zindgi Kya Hai?”

Ek Zabardast Jawab…..

Jab Insaan Paida Hota Hai Toh Uske Paas Saansein Toh Hoti Hai Par Koi Naam Nahi Hota Aur Jab Insaan Ki Mout Hoti Hai Toh Uske Paas Naam Toh Hota Hai Par Saansein Nahi Hoti Isi Saansein Aur Naam Ke Beech Ki Safar Ko “Zindgi”Kahte Haiैं।
🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻



💫बहुत सुन्दर सन्देश💫

👏 खुश रहा करो, क्यों कि
परेशान होने से कल की
मुश्किल दूर नहीं होती।,,

बल्कि आज का सुकून भी
चला जाता है,,,!

👏 वक्त हर वक्त को बदल देता है सिर्फ वक्त को थोडा वक्त दो..



TOUCHING MSG.
– ज़रूर पढ़ें और सयानी होती बेटियों-बहनों को भी पढ़ायें

क्यों करता है भारतीय समाज बेटियों की इतनी परवाह…

एक संत की कथा में एक बालिका खड़ी हो गई।
चेहरे पर झलकता आक्रोश…

संत ने पूछा – बोलो बेटी क्या बात है?

बालिका ने कहा- – महाराज हमारे समाज में लड़कों को हर प्रकार की आजादी होती है।
वह कुछ भी करे, कहीं भी जाए उस पर कोई खास टोका टाकी नहीं होती।
इसके विपरीत लड़कियों को बात बात पर टोका जाता है।
यह मत करो, यहाँ मत जाओ, घर जल्दी आ जाओ आदि।

संत मुस्कुराए और कहा…

बेटी तुमने कभी लोहे की दुकान के बाहर पड़े लोहे के गार्डर देखे हैं?
ये गार्डर सर्दी, गर्मी, बरसात, रात दिन इसी प्रकार पड़े रहते हैं।
इसके बावजूद इनका कुछ नहीं बिगड़ता और इनकी कीमत पर भी कोई अन्तर नहीं पड़ता।
लड़कों के लिए कुछ इसी प्रकार की सोच है समाज में।

अब तुम चलो एक ज्वेलरी शॉप में।
एक बड़ी तिजोरी, उसमें एक छोटी तिजोरी।
उसमें रखी छोटी सुन्दर सी डिब्बी में रेशम पर नज़ाकत से रखा चमचमाता हीरा।
क्योंकि जौहरी जानता है कि अगर हीरे में जरा भी खरोंच आ गई तो उसकी कोई कीमत नहीं रहेगी।

समाज में बेटियों की अह