Play It Now

‪तेरा दूर से दीदार करना भी इबादत है, तेरे दर पर सर झुकाना भी इबादत है, ना पोथी, ना मत्रं, ना माला ना सजदा, तुझे हर पल याद करना भी इबादत है🙏
TopJokes.in